प्रवासियों को अब बिहार में ही मिलेगा काम, बाहर जाने की नहीं है जरूरत

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न क्वॉरेंटाइन केंद्रों का औचक निरीक्षण किया. मुख्यमंत्री ने 10 जिलों के 20 क्वारंटाइन सेंटर का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए निरीक्षण किया. मुख्यमंत्री ने क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली और केंद्र का मुआयना किया. सीएम ने क्वॉरेंटाइन केंद्रों में शौचालय पेयजल, रसोईघर लोगों के रहने की व्यवस्था, केंद्रों के साफ-सफाई का बारीकी से अवलोकन किया.

नीतीश कुमार ने इस दौरान प्रवासियों से बातचीत भी की और उन्हें भरोसा दिया कि घर में ही उनकी रोजी-रोटी का जुगाड़ किया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने प्रवासियों को कहा है  आप तमाम लोग बिहार में रहे सभी को बिहार में ही काम दिया जाएगा. सीएम नीतीश ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि इच्छुक लोगों का जॉब कार्ड बनाएं, सभी को उनके स्किल के अनुरूप रोजगार उपलब्ध कराएं.



श्रमिकों के स्किल के अनुरूप नए उद्योगों को बढ़ावा दें. पेवर ब्लॉक उद्योग की बिहार में असीम संभावनाएं हैं. जल जीवन हरियाली हर घर पक्की गली नली एवं अन्य योजना के तहत किए गए कार्यों में पेवर ब्लॉक का इस्तेमाल करें. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि महिलाओं को जीविका से जोड़ें ताकि उन्हें रोजगार मिल सके. मुख्यमंत्री ने प्रवासी मजदूरों से कहा है कि आप लोग बिहार में रहिए अपने श्रम बल एवं स्किल का यही उपयोग कीजिए आप सभी लोग बिहार के विकास में भागीदार बने.