Big Breaking : नीतीश सरकार में शामिल मंत्री मुकेश सहनी आए जाप सुप्रीमो के समर्थन में, कहा- असंवेदनशील है पप्पू यादव की गिरफ्तारी

लाइव सिटीज, पटना : जाप सुप्रीमो पप्पू यादव की गिरफ्तारी अभी देश के सियासी गलियारों में सुर्खियों में आ गया है. उनके समर्थन में अब नीतीश सरकार में शामिल मंत्री मुकेश सहनी आ गए हैं. पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मुकेश सहनी ने ट्वीट कर पप्पू यादव की गिरफ्तारी का खुलकर विरोध किया है. जाप सुप्रीमो की गिरफ्तारी को असंवेदनशील बताया है.

मंत्री मुकेश सहनी ने ट्वीट कर जाप सुप्रीमो पप्पू यादव की काफी प्रशंसा की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि जनता की सेवा ही धर्म होना चाहिए. सरकार को जन प्रतिनिधि, सामाजिक संस्था एवं कार्यकर्ता को आमजन के मदद के लिए प्रेरित करना चाहिए. जन प्रतिनिधि को भी कोरोना गाइड्लाइन का सख़्ती से पालन करते हुए कार्य करना चाहिए. ऐसे समय में सेवा में लगे जाप सुप्रीमो पप्पू यादव को गिरफ़्तार करना असंवेदनशील है.

दरअसल, जाप सुप्रीमो पप्पू यादव की गिरफ्तारी के विरोध में सूबे में जनआक्रोश बढ़ता जा रहा है. लोग सोशल मीडिया पर अपनी मांगों को रख रहे हैं. उनकी रिहाई की मांग कर रहे हैं. इसे लेकर राजनीतिक दलों के बंधन टूटते जा रहे हैं. पप्पू यादव के घोर विरोधी रहे राजनीतिक दल और नेता भी उनके समर्थन में लगातार आ रहे हैं. मंत्री मुकेश सहनी के पहले नीतीश सरकार में शामिल घटक दल हम पार्टी के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने भी ट्वीट कर कहा कि ऐसे मामलों की पहले न्यायिक जांच हो, तब ही कोई कारवाई होनी चाहिए. नहीं तो जन आक्रोश होना लाज़मी है.

इतना ही नहीं, आरजेडी प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने भी ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को कुशासन कुमार की संज्ञा दी. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा- ‘ये कुशासन कुमार का अभागा बिहार है भइया, यहां चोरी पकड़ने वाले को ‘गिरफ़्तारी’ और चोर को सीएम आवास में ‘इफ़्तारी’ मिलता है..!’ इतना ही नहीं, तेजप्रताप यादव ने अपने ट्वीट के साथ #ReleasePappuYadav को भी हैश टैग किया है. हालांकि थोड़ी देर के ​बाद ही तेजप्रताप ने अपने ट्वीट को डिलीट कर दिया.