रांची : पिता से मिल चिंतित दिखी मीसा, बोलीं – प्रायोजित है एग्जिट पोल, EVM पर भी सवाल

मीसा भारती

रांची, लाइव सिटीज : चारा घोटाले मामलों के सजायाफ्ता और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से मिलने सोमवार को उनकी बड़ी बेटी मीसा भारती रांची के रिम्‍स पहुंचीं. जेल प्रबंधन के आदेश पर उन्‍हें विशेष तौर पर लालू से मुलाकात की अनु‍मति दी गई है. मीसा भारती के साथ उनकी बहन रोहिणी आचार्य भी अपने पिता से मिलने पहुंचीं थी. लालू यादव से मिलने के बाद मीसा भारती ने पत्रकारों से बात किया.

मीसा भारती ने लालू यादव के स्वास्थ्य पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि बेहतर इलाज के लिए दूसरे जगह शिफ्ट करने की अर्जी लगाएंगे. साथ ही एग्जिट पोल में आए नतीजों पर बोलते हुए मीसा भारती ने कहा कि एनडीए खुश हो सकती है. लेकिन देश की जनता एग्जिट पोल के नतीजों से खुश नहीं है. महागठबंधन को एग्जिट पोल के नतीजे पर विश्वास ना रहा है, ना रहेगा ना, रहा था.

उन्होंने कहा कि हमे जनता पर भरोसा है हम लोगों को ग्राउंड रियलिटी पता है. 23 मई को सभी को पता चल जाएगा. देश में 5 साल एनडीए की सरकार से नौजवान किसान सभी परेशान हैं. साथ ही तेजस्वी के वोट नहीं देने के सवाल पर मीसा भारती ने कहा कि उन्हें इस बात का दुख है.

बता दें कि मीसा भारती पाटि‍लपुत्र से राजद के टिकट पर केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव के खिलाफ लोकसभा का चुनाव लड़ रही हैं. चुनाव खत्‍म होने के बाद वे यहां अपने पिता से उनकी तबीयत का हाल जानने आई थी.

इधर, चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की सुरक्षा में लगे सुरक्षाकर्मियों और पुलिसकर्मियों को पानी बाहर से खरीदना पड़ रहा है. रांची के रिम्स अस्पताल में पीने का पानी नहीं मिल रहा है. पानी बाहर से खरीद के लाना पड़ रहा है.

रिम्स प्रशासन पीने के पानी की समस्या से बेखबर है. रिम्स में लालू यादव की सेवा में लगे सेवादार इरफान बताते हैं कि पीने की पानी को लेकर पूरे पेइंग वार्ड में काफी दिक्कत है. उन्होंने बताया कि यहां पर मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को भी पानी के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इन्हें पानी बाहर से खरीद कर पीना पड़ता है. यहां तक कि पेइंग वार्ड के जिस फ्लोर पर लालू यादव एडमिट है उस फ्लोर पर भी पानी की घोर कमी है.

About परमबीर सिंह 1332 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*