लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुंगेर में लॉक डाउन के मद्देनजर आम लोगों को हो रही परेशानियों को देखते हुए जिला पुलिस ने आवश्यक सामानों की आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए जनोपयोगी प्रयास शुरू किया है. प्रशासन द्वारा आम लोगों की सुविधाओं के लिए सुरक्षित एवं सतर्कता पूर्ण दुकानदारी सुनिश्चित कराई गई है. साथ ही किराना दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग फार्मूला के तहत लोगों को खरीददारी करने के लिए प्रेरित किया गया.

मुंगेर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह की पहल पर किराना दुकानों में आवश्यक सामग्रियों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का प्रयास पुलिस द्वारा हुआ. सोशल डिस्टेंसिंग फार्मूला के तहत लोगों को कतार बद्ध होकर तथा समुचित दूरी बनाकर खरीददारी कराई गई. दुकानदारों को भी सोशल डिस्टेंसिंग फॉर्मूला अपनाते हुए संक्रमण से बचाव के लिए ग्राहकों से समुचित दूरी बनाकर दुकान चलाने के निर्देश दिए गए.

पुलिस अधीक्षक ने सभी दुकानदारों को इसी तरह से दुकान चलाने के लिए प्रेरित किया और कहा कि आवश्यक सामानों की आपूर्ति किसी सूरत में बाधित नहीं होनी चाहिए ताकि आम जनता को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े. पुलिस अधीक्षक ने दुकानदारों को यह भी चेतावनी दी है कि यदि ऊंची दर पर सामान की बिक्री करने की शिकायत मिली तो उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने मुंगेर जिले के सभी किराना दुकानदारों को दुकान के आगे घेरा बनाकर ग्राहकों को कतार बद्ध होकर खड़ा कराने तथा हाथ धुलवा कर ही सामान देने का निर्देश दिया है. मुंगेर जिला के अंतर्गत सभी थानों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि आवश्यक सामानों की आपूर्ति करने वाले किराना दुकानों में सोशल डिस्टेंस फार्मूला के तहत ही खाद्य सामग्रियों की बिक्री हो.

गौरतलब है कि मुंगेर में आवश्यक सामानों की खरीदारी करने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था. इसी के मद्देनजर पुलिस अधीक्षक ने यह फार्मूला निकाला और सोशल डिस्टेंसिंग फार्मूले के तहत खरीद बिक्री कराने का निर्देश दिया. मुंगेर जिला के कासिम बाजार थाना अंतर्गत मकससपुर इलाके में घनी आबादी है, जहां काफी संख्या में गरीब तबके के लोग रहते हैं. गरीब तबके के जरूरतमंद लोगों को हो रागी परेशानियों को देखते हुए एसपी ने यह प्रयास मुंगेर में शुरू कराया.

सोशल डिस्टेंसिंग खरीद बिक्री की शुरुआत मकससपुर से कराई गई है तथा पूरे जिले में इसे लागू किया जाएगा. जो दुकानदार इस फार्मूले को नहीं मानेंगे उन पर कार्रवाई होगी. क्योंकि दुकान पर जरूरत से ज्यादा भीड़ लगाने से संक्रमण का खतरा रहता है. पुलिस अधीक्षक ने दुकानदारों को यह भी चेतावनी दी है कि किसी व्यक्ति को अधिक सामान नहीं देंगे तथा उतना ही सामान देंगे जो कि चार-पांच दिन तक उनके परिवार की जरूरतों को पूरा कर सके. कुछ लोगों द्वारा अनावश्यक रूप से खाद्यान्न को जमा करने की शिकायत मिली है. उन्होंने कहा कि यदि दुकानदारों द्वारा और आम लोगों द्वारा बेवजह अनावश्यक स्टॉक जमा किया जाएगा तो उन पर संबंधित विभाग के साथ मिलकर कार्रवाई की जाएगी.