मुंबई में खाकी वर्दी को शर्मसार कर कानून को जंजीरों में जकड़ना चाहते थे : मृत्युंजय सिंह

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह ने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के मामला की जांच पर लगातार उठते सवाल के बीच शिवसेना सांसद संजय राउत जी ने पार्टी मुखपत्र सामना मे बिहार पुलिस और केंद्र पर महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ साजिश रचने का इल्जाम लगाया है. इस पर हम कहना चाहते हैं कि सांसद संजय राउत जी को पश्चात करना चाहिए की बिहार पुलिस को नहीं बल्कि मुंबई पुलिस को कानून की रक्षा, जनता की सुरक्षा के साथ जनता को न्याय के ज्ञान से दूर कर दिए थे.

मृत्युंजय कुमार सिंह ने कहा कि पूरा देश के साथ विदेश में भी इसकी सोसल मीडिया में निन्दा दिखी. मुंबई में देश के खाकी वर्दी को शर्मसार कर के कानून को जंजीरों में जकड़ना चाहते थे. न्याय पर पर्दा डालने की पूरी कोशिश की गई. परंतु उनको पता होना चाहिए की बिहार में कानून की रक्षा के साथ न्याय के साथ विकास की सरकार है, जिसके मुखिया बिहार के यशस्वी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी हैं.



उन्होंने कहा कि बिहार में जनता न्याय के लिए पुलिस को स्वतंत्र रूप से जांच – अनुसंधान का अधिकार है. किसी तरह का राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं है. बिहार की पुलिस न्याय के मामले में ना किसी को बचाती है और ना ही किसी को छोड़ती है. एकरूपता से करवाई करती है. मुंबई पुलिस को पुलिस की पुलिस से सिख कर बिहार पुलिस के पदचिन्ह पर चलना चाहिए. ताकि मुंबई पुलिस की गिरी साख पुनः मजबूत हो सके.