नेचुरल डेयरी-ब्लू स्टार के खिलाफ परिजनों ने किया मर्डर का केस, PMCH के टीओपी प्रभारी सस्पेंड

लाइव सिटीज, पटना : वेस्ट बंगाल के रहने वाले तीन टेक्नीशियन के मौत का रहस्य अब भी बरकरार है. पटना पुलिस की नजर में इनकी मौत कार्बन मोनोआॅक्साइड की वजह से हुई है. लेकिन फैमिली वालों के नजर में उदय दास, अभिमन्यू वेरा और इन्द्रजीत जाना की हत्या की गई है. मामले की जांच कर रही पुलिस टीम के सामने फैमिली वालों ने कई सवाल खड़े किए. दरअसल, फैमिली वालों को गुरुवार की दोपहर 12 बजे के करीब कॉल कर तीनों के मौत की खबर दी गई थी. इंफॉरमेशन मिलने के बाद ही उदय के भाई देवोप्रोतो दास और अभिमन्यू व इन्द्रजीत के चाचा पटना के लिए निकल गए थे.

पटना पहुंचने के बाद सभी को पीएमसीएच टीओपी लाया गया था. यहीं पर पाटलिपुत्रा थाने की पुलिस टीम ने सभी का बयान लिया. अपने बयान में तीनों के फैमिली वालों ने साफ तौर पर इसे साजिश के तहत हत्या बताया है. इनके बयान पर ही नेचुरल डेयरी और ब्लू स्टार कंपनी के मैनेजमेंट के खिलाफ हत्या का एफआईआर दर्ज किया गया है.

TECH
मृतकों के परिजन
कैसे स्वीच आॅफ हुआ तीनों का मोबाइल?

फैमिली वालों ने कई ऐसे सवाल खड़े किए हैं, जिसका जवाब फिलहाल किसी के पास नहीं है. टेक्नीशियन उदय के भाई देवोप्रोतो दास के अनुसार तीनों लोगों का मोबाइल फोन स्वीच आॅफ कैसे हुआ ? जबकि इनकी आदत मोबाइल बंद कर सोने की नहीं थी. डाउट इस बात पर भी है कि तीनों सोने के लिए अलग रूम दिए गए थे. लेकिन बॉडी किसी और रूम से मिली. जिसमें वेंटिलेशन की कोई जगह भी नहीं थी. फैमिली वालों का साफ कहना है कि पूरे मामले को डायवर्ट किया गया है. हत्या कर इसे दूसरा रूप दिया जहा रहा है.

एक ही साथ तीनों निकले थे खाने

फैमिली वालों की मानें तो 24 जनवरी को तीनों अपने घर से पटना के लिए निकले थे. 25 जनवरी को पटना पहुंचे भी. नेचुरल डेयरी में इनका काम चल भी रहा था. बात 29 जनवरी की है. रात 9 बजकर 5 मिनट पर उदय ने अपने जीजा उत्तम दास को कॉल किया था. उस वक्त तीनों एक साथ खाना खाने के लिए होटल में गए थे. उस वक्त उदय ने बताया था कि उन लोगों का काम पटना में खत्म हो गया है. अगले दिन यानी 30 जनवरी की सुबह 4 बजे के करीब पटना से घर के लिए निकल जाएंगे. ये फैमिली वालों से इनकी आखिरी बातचीत थी.

ब्लू स्टार ने भी दूसरी एजेंसी से किया था हायर

उदय, अभिमन्यू और इन्द्रजीत जाना मूल रूप से वेस्ट बंगाल की प्राइवेट एजेंसी पूर्वाया रेफ्रिजरेशन के टेक्नीशियन थे. पटना की नेचुरल डेयरी ने कोल्ड रूम बनाने के लिए ब्लू स्टार को कांट्रैक्ट दिया था. फिर ब्लू स्टार ने पूर्वाया रेफ्रिजरेशन को हायर किया. इसके बाद बंगाल की एजेंसी ने अपने तीनों टे​क्नीशियन को पटना काम करने के लिए भेजा था. इस बात पुष्टि उदय के भाई ने की है.

NATURAL
नेचुरल डेयरी (फाइल फोटो)
अब तक सामने नहीं आया मैनेजमेंट

जब से तीन लोगों की मौत का मामला सामने आया है, उसे बाद से ही सवालों के घेरे में नेचुरल डेयरी का मैनेजमेंट है. मैनेजमेंट का कोई भी व्यक्ति मामले की जांच कर रही पुलिस टीम के सामने अब तक नहीं आया है. जबकि पटना सदर के एसडीएम भावेश झा और डीएसपी लॉ एंड आॅर्डर ​डा. मो. शिब्ली नोमानी खुद घटना स्थल पर जांच करने गुरुवार की देर रात गए थे. जांच के दौरान मौके पर मैनेजमेंट का कोई भी व्यक्ति नहीं मिला. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है. पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

डेयरी में बुधवार को ही हुई थी तीनों टेक्नीशियन की मौत, अलग-अलग लोग लाये थे PMCH
पढ़िए बजट पर रवीश की ‘रिपोर्ट’, किसानों ने आज हिन्दी अख़बार खोले होंगे तो धोखा मिला होगा
पीएमसीएच टीओपी प्रभारी पर गिरी गाज

पीएमसीएच में पीरबहोर थाना का आउट पोस्ट है. एसएसपी के कार्रवाई की गाज टीओपी के प्रभारी व सब इंस्पेक्टर मंतोष कुमार पर गिरी है. एसएसपी मनु महाराज ने इन्हें सस्पेंड कर दिया है. इन पर उपर के अधिकारियों को सूचना नहीं देने का आरोप लगा है. एसएसपी की मानें तो बुधवार की रात करीब 12 बजे ही तीनों टेक्नीशियन की डेड बॉडी पीएमसीएच आ गई थी. लेकिन टीओपी प्रभारी ने इस मामले की जानकारी तुरंत अपने उपर के अधिकारियों को नहीं दी. हालांकि इस पूरे मामले में पाटलिपुत्रा थाना की पुलिस टीम की ओर से भी बड़ी लापरवाही बरतने की बात सामने आई है.

देख लीजिए वीडियो, बहुत मार्मिक कहानी है #पटना की रिंकी की . कैंसर के बाद पति ने छोड़ दिया है, दो साल का बच्चा है, पापा के पास पैसे नहीं हैं, आपकी मदद रिंकी को अभी जिंदा रख सकती है…

देखें वीडियो : बिहार के बड़े बिजनेसमैन से 2 करोड़ की मांग, #बेतिया से लेकर #पटना तक #मारवाड़ी समाज में कोहराम…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*