मुजफ्फरपुर: कचरा चुनने के बहाने करते थे घर की रेकी, फिर चोरी की घटना को देते थे अंजाम, हुआ बड़ा खुलासा

लाइव सिटीज अभिषेक: मुजफ्फरपुर में घर के बाहर कचरा चुनने के बहाने घर में रेकी कर चोरी की घटना को अंजाम देने वाले गिरोह के 3 शातिरों समेत 4 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इनके साथ ही चोरी का सामान खरीदने वाले कबाड़ दुकानदार को भी गिरफ्तार किया गया है. गुप्त सुचना के आधार पर काजीमोहम्मदपुर पुलिस ने ये कारवाई की है. बताया जा रहा है कि शातिर कचरा चुनने के बहाने घर मे रेकी करते थे. इसके बाद वे लोग घर में घुसकर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे. इसके अलावा दिन में सोये लोगो का भी मोबाइल समेत अन्य सामानों को खिड़की के सहारे चोरी कर फरार हो जाते थे.

कचरा चुनने की वजह से लोगों को इनपर शक भी नही हो पाता था. जिसके वजह से ये लोग धड़ल्ले से चोरी की घटना को अंजाम दे रहे थे. मामले में थानेदार दिगम्बर कुमार ने बताया कि इनके गिरोह में आभूषण व्यवसायी, कबाड़ी दुकानदार समेत अन्य लोग शामिल है. गिरोह के चार शातिरों को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से 1 टैब व आधा दर्जन से अधिक मोबाइल बरामद किया गया है. इनमें कबाड़ी दुकानदार कुढ़नी थाना के लुक्की नंदलालपुर निवासी मो. सहजाद उर्फ सुड्डू है. इसके अलावा, पियर थाना के बेलगमा निवासी मो.असलम, नगर थाना के पुरानी गुदरी निवासी भोला मल्लिक व क्युषा मल्लिक शामिल है.

उन्होंने बताया कि आभूषण व्यवसाय के दुकान पर छापेमारी की गई थी. लेकिन वह फरार है. उसके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है. थानेदार दिगम्बर कुमार ने कहा कि शनिवार को सभी से पूछताछ की गई. इसके बाद उनसभी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. बताया गया कि तीनों शातिर पहले कचरा चुनने के बहाने आते थे. इसके बाद घर की रेकी करते थे. घर के लोगों के नही होने पर चोरी की घटना को अंजाम देते थे. बताया गया कि शातिर चोरी का मोबाइल कबाड़ दुकानदार व जेवर गरीबस्थान स्तिथ आभूषण व्यवसाय को बेच देते थे. इसको लेकर उन्हें अच्छी कीमत मिल जाती थी.

मामले में बताया गया कि थाने के दारोगा शशि भगत गश्त पर थे. इसी दौरान एसबीआई बैंक के समीप तीन युवक खड़े थे. शक के आधार पर तीनों से पूछताछ की गई. पूछताछ में सन्तोषजनक जवाब नही मिलने पर तलाशी ली गई. इस दौरान इनके पास 4 मोबाइल बरामद किया गया. पूछताछ में तीनों बताया कि मोबाइल चोरी की है. जिसके बाद तीनों को गिरफ्तार किया गया. तीनों ने बताया कि वे लोग रेकी करने के लिए आये थे. पूछताछ में तीनों ने बताया कि वे लोग चोरी के सामानों को सहजाद व आभूषण व्यवसाय से बेच देते है. बीते मार्च माह में भी उन्होंने थाना क्षेत्र से चोरी की घटना को अंजाम दिया था. इसमे उन्होंने नकद , जेवर व टैब समेत अन्य सामानों की चोरी कर ली थी. टैब को कबाड़ दुकानदार से बरामद किया गया है. वही फरार आभूषण व्यवसाय की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.