शेल्टर होम मामला : SC ने बिहार सरकार को लगाई कड़ी फटकार, ट्रायल पटना से दिल्ली शिफ्ट

फाइल फोटो

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले को लेकर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई, इस दौरान उच्चतम न्यायालय ने बिहार सरकार को जमकर फटकार लगाई और ट्रायल को पटना से दिल्ली साकेत पॉस्को कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया. इस मामले में CJI ने आदेश दिया है कि दो हफ्ते के भीतर ट्रायल को शुरू करें और 6 महीने के अंदर इसे ख़त्म भी करें.

2 बजे तक सारे सवाल का जवाब देने को कहा

सुप्रीम कोर्ट ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले को लेकर एक बार फिर बिहार सरकार को फटकार लगाते हुए सारे सवालों का जवाब दो बजे तक देने को कहा है. CJI रंजन गोगोई ने कहा है पटना से दिल्ली का रास्ता सिर्फ दो घंटे का है, उन्होंने कहा कि हम यहाँ मुख्य सचिव को भी खड़ा कर सकते हैं.

इस दौरान उन्होंने कहा कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि आप बच्चों के साथ इस तरह का व्यवहार करते हैं. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि आप इस तरीके की चीजों की इजाज़त नहीं दे सकते.

फिर बोले तेजस्वी – अगर 13 Point Roster पर नहीं बोलेंगे तो नीतीश कुमार बन सकते हैं पीएम

CJI ने बिहार सरकार के वकील को डांट पिलाते हुए कहा कि अगर सारी जानकारी नहीं दे सकते हैं तो किसी अफसर को बुलाइए अब बहुत हो गया. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने कहा कि हम सरकार नहीं चला रहे हैं लेकिन हम आपसे ये जानना चाहते हैं कि आप कैसे सरकार चला रहे हैं ?

सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार को कठिन सवालों के जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा है . इसके अलावा अब ट्रायल को पटना से दिल्ली साकेत पॉस्को कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया गया है. सब इस मामले के सभी आरोपियों का ट्रायल दिल्ली में ही चलेगा. इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि ट्रायल दो सप्ताह के अंदर शुरू कर दें और 6 महीने के भीतर केस को ख़त्म भी करें.

About परमबीर सिंह 601 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*