नालंदा के एक क्वारंटाइन सेंटर में भूख- प्यास से तड़प रहे हैं प्रवासी मजदूर, नहीं मिला खाना

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के क्वारंटाइन सेंटरों का हाल किसी से नहीं छिपा है. आए दिन लगभग क्वारंटाइन सेंटर से कुव्यवस्था के कारण लोगों को हो रही परेशानियों की ख़बरें आती हैं. इसको लेकर आज बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने दस जिलों के प्रखंडों के क्वारंटाइन सेंटर्स की समीक्षा की.

ताजा मामला सामने आया है नालंदा के क्वारंटाइन सेंटर से. खाना नहीं मिलने से नाराज मजदूरों ने सिलाव प्रखंड कार्यालय पहुंचकर हंगामा किया. मजदूरों का आरोप है कि करीव 40 की संख्या में ये लोग श्रमिक स्पेशल ट्रेन से सिलाव पहुंचे थे. जिसमें महिला और बच्चे भी शामिल है. सभी मजदूरों को पाकी क्वॉरेंटाइन सेंटर भेज दिया गया.



लेकिन वहां पहुंचने के बाद न तो कोई किट मिला और ना खाना. जिसके कारण सबकी हालत खराब होने लगी. छोटे-छोटे बच्चे भूख से तड़पते रहे