नालंदा ने आज दिनभर देखा मौत का मंजर, नदी में डूबने से दो सगी बहन सहित 4 की मौत

लाइव सिटीज, नालंदा( संतोष कुमार):  कार्तिक पूर्णिमा के दिन तीन अलग-अलग थाना क्षेत्रों में घटी घटनाओं में आज नदी में डूबने से चार बच्चियों की मौत हो गई, वहीं  सड़क दुर्घटना में 13 लोग जख्मी हो गए. पहली घटना पावापुरी थाना इलाके के घोसरावां गांव में घटी, वहां कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर सकरी नदी में स्नान करने गयी तीन नाबालिग बच्चियों की डूबने से मौत हो गयी. ग्रामीणों के सहयोग से एसडीआरएफ की टीम ने तीन को शव को बरामद कर नदी से बाहर निकाला. मृतकों में दो सगी बहन है.

नदी में 5 -6 महिला एवं युवती को ग्रामीणों ने डूबने से बचाया. मृतकों में घोसरावा गांव के अजय सिंह की पुत्री अंशु कुमारी (17)सोनम कुमारी(15) दीपू सिंह की पुत्री प्रीति कुमारी(17) शामिल है अंशु एव प्रीति इंटर पास कर आगे की पढ़ाई कर अपने सुनहरे भविष्य की सपने देख रही थी, लेकिन गड़बड़ सरकारी व्यवस्था ने उसकी जान ले ली.



ग्रामीणों का कहना है कि बालू का अवैध उत्खनन के कारण नदी घाट में बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं, जो आज जानलेवा साबित हुआ ग्रामीण अवैध बालू उत्खनन करने व कराने में सहायक साबित होने वाले पुलिस व प्रशासनिक पदाधिकारियों पर सीधी कार्रवाई करने की मांग की है.इधर तीनो की मौत के बाद बिहार के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार सांसद कौशलेन्द्र कुमार, राजगीर के विधायक रवि ज्योति सदर अस्पताल पहुंच पीड़ित परिवार को सांत्वना दिया.

दूसरी घटना नूरसराय में घटी जहां पोखर में दीपदान के दौरान तालाब में डूबने से किशोरी की मौत हो गई नूरसराय थाना क्षेत्र के साधु यादव की पुत्री प्रियंका कुमारी मकनपुर के पोखर में कार्तीक पूर्णिमा के मौके पर गॉव के पास ही पोखर में दिया जलने गई थी, जहाँ उसका पैर फिसल गया और पानी ज्यादा होने के कारण वो डूब गई जिससे उसकी मौके पर ही उसकी मौत हो गई ग्रामीणों ने पुलिस के सहयोग से शव को बरामद किया.

तीसरी घटना बेना थाना इलाके के बिहार को पड़ोसी राज्य झारखंड से जुड़ने वाले प्रमुख मार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 20 धमौली गांव के समीप घटी जहां बाढ़ से गंगा स्नान कर लौट रही ऑटो अनियंत्रित होकर पलट गई जिससे ऑटो पर सवार 13 लोग जख्मी हो गए सभी जख्मी को इलाज के लिए बिहार शरीफ सदर अस्पताल लाया गया जहां तीन महिलाओं की हालत नाजुक बनी हुई है.

बताया जाता है कि यह सभी गया जिले के वजीरगंज थाना के कुर्किहार गांव से कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर बाढ़ उमानाथ स्नान करने गए थे लौटने के दौरान या दुर्घटना घटी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और सभी घायलों को इलाज के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल लाया.