Big Breaking : बिहार में नक्सलियों ने पोस्टर चिपका कर जारी किया ‘डेथ वारंट’, पुलिस महकमे की बढ़ी टेंशन; सुरक्षा तेज

लाइव सिटीज, पटना : बिहार में नक्सलियों ने एक बार फिर दहशत फैलाना शुरू कर दिया है. ताजा मामला नवादा जिले का है. सूत्रों के अनुसार, नवादा में मंगलवार को नक्सलियों ने पोस्टर साटकर प्रशासनिक महकमे की टेंशन बढ़ा दी है. यह पोस्टर सिरदला के कुशाहन गांव में साटा गया है. इसमें तीन लोगों के खिलाफ डेथ वारंट जारी किया गया है. उन्हें मारने की धमकी दी गई है. बता दें कि पांच साल पहले रेलवे बेस कैंप पर हमला हुआ था. इसके बाद से इलाका शांत था. लेकिन आज फिर पोस्टर साटकर इलाके में नक्सलियों ने दहशत फैला दी है.

सिरदला थाने से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित है कुशाहन मध्य विद्यालय. इसी विद्यालय की बाउंड्री वाल पर पोस्टर साटा गया है. मंगलवार की सुबह पोस्टर चिपका देख लोग सकते में आ गए. घटना की जानकारी लोगों ने पुलिस को दी. इसके बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने वहां से पोस्टर को हटाया. पोस्अर में लाल व हरे रंग की इंक का इस्तेमाल किया गया है.

पोस्टर में लिखा गया है- ‘आज पार्टी ऐलान करती है कि हमलोगों का गांव वालों से कोई लेना-देना नहीं है. हमलोग को सिर्फ तीन लोग चाहिए, जो पार्टी का गद्दार है, जो पार्टी को लूटा है, पार्टी उसका फरमान निकाला है, उसकी मौत का, अब वह बचने वाला नहीं है, उन्हें मरना होगा…’ पोस्टर में यह भी लिखा गया है- ‘उसने हमारे कमांडर को धोखा दिया है, अब हमारा कमांडर जेल से आजाद हो गया है. अब उसे जरूर मरना होगा, क्योंकि हमारा कमांडर उसी की वजह से 5 साल जेल काटा है. इन तीन लोगों ने लेवी का सारा पैसा गबन किया है, उन तीनों की मौत धोखा नहीं, ऐलान है…’

बहरहाल, पुलिस अभी इस मामले में कुछ भी बोलने से बच रही है. वह यह पता लगा रही है कि पोस्टर चिपकाने वाले सच में नक्सली हैं या उसके नाम पर शरारती तत्वों ने कोई साजिश रची है. पुलिस जांच के बाद ही पता चलेगा कि सही मामला क्या है. लेकिन पोस्टर के साटे जाने से स्थानीय लोग भी दहशत में हैं. पुलिस की चुनौती तो बढ़ ही गई है.