बिहार बाढ़ आपदा से निपटने में एनडीआरएफ का राहत एवं बचाव अभियान जारी, 9100 से अधिक लोगों को सुरक्षित निकाला

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बाढ़ आपदा के मद्देनजर वर्तमान में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 21 टीमें बिहार राज्य के 13 जिलों में तैनात है. 05 टीमें सारण जिला में, 03 टीमें पूर्वी चम्पारण जिला में, 02-02 टीमें दरभंगा तथा गोपालगंज जिले में एवं 01-01 टीम कटिहार, किसनगंज, अररिया, सुपौल, मधुबनी, पश्चिम चम्पारण, सिवान, वैशाली तथा मुजफ्फरपुर जिले में अत्याधुनिक आपदा प्रबंधन एवं संचार उपकरणों के साथ बाढ़ आपदा से कुशलता से निपटने के लिए तैनात की गई है.

9वीं बटालियन एनडीआरएफ के कमान्डेंट विजय सिन्हा ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के मांग पर सुपौल जिले में तैनात दो टीमों में से एक टीम को वैशाली जिला में तथा गोपालगंज जिले में तैनात तीन टीमों में से एक टीम को सारण जिला में तैनात किया गया. अब सारण जिले में एनडीआरएफ की कुल 05 टीमें बाढ़ राहत व बचाव कार्य में जुटी हुई है.



शनिवार को सारण और दरभंगा जिले में बाढ़ प्रभावित इलाके में एनडीआरएफ की टीमें रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर 500 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया. कमान्डेंट विजय सिन्हा ने आगे जानकारी दिया कि अब तक बिहार राज्य के विभिन्न जिलों में प्रशासन के सहयोग से रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर एनडीआरएफ के कार्मिकों ने 9,100 से अधिक बाढ़ विभीषिका में फंसे लोगों को रेस्क्यू बोटों द्वारा निकालकर सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया है. राहत और बचाव ऑपेरशन के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है और समुदाय के लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है.

अचानक प्राप्त डिस्ट्रेस कॉल पर भी एनडीआरएफ की टीमें जिला प्रशासन के समन्वय से रेस्पांस करके जरुरतमंद लोगों को हरसंभव मदद कर रही है. एनडीआरएफ का इमरजेंसी ऑपेरशन सेन्टर हर दिन चौबीसों घंटे कार्यरत है जहां से प्रशिक्षित कार्मिकों द्वारा लगातार ऑपरेशनल गतिविधियों की मॉनिटरिंग की जा रही है तथा बाढ़ की स्थिति पर नजर रखी जा रही है.