नीतीश कुमार ने संजय प्रसाद के लिए मांगा वोट, कहा- हमने अपना काम कर दिया, अब सब कुछ आप पर निर्भर है

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर जेडीयू पूरी तरह से प्रचार में जुट गई है. आज जमुई के चकाई में पार्टी अपने प्रत्याशी संजय प्रसाद के लिए प्रचार करने पहुंची. इस दौरान सीएम नीतीश कुमार ने सभा को संबोधित किया. सीएम ने अपने संबोधन में संजय प्रसाद के लिए वोट भी मांग. उन्होंने कहा कि हमे बिहार में अभी और भी काम करना है, इसलिए एक बार फिर से मौका दीजिए.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि आज के युवा को नई तकनीक से जोड़ने का समय आ गया है. इसके लिए हम हर प्रमंडल में नए-नए उपकरण लाकर नौजवानों को परिक्षण कराएंगे. उन्होंने कहा कि एक बात जान लीजिए अगर आज की तारीख में जो भी कंप्यूटर नहीं जनता है, कंप्यूटर पर काम नहीं कर पाएगा तो उसके लिए नौकरी कहीं नहीं है. इसलिए हम सभी को कंप्यूटर का परिक्षण देने में लगे हैं. इसके अलावा हमने लोगों के उत्थान के लिए सात निश्चय योजना शुरू किया. आज की तारीख में हमने सभी के घरों में बिजली पहुंचाया है. साथ ही साथ हर घर में नल का जल पहुंचाना भी हमारा लक्ष्य है. हमने अधिक्तर घरों में पहुंचा भी दिया. लेकिन अभी भी कुछ काम बाकी है.



सीएम नीतीश ने कहा कि हमने कई योजनाएं बनाई. हम चाहते हैं कि हर खेत में सिंचाई के लिए पानी पहुंचाया जाए. इसके लिए हमने काम शुरू भी कर दिया है. मुझे उम्मीद है कि अगर आपलोग हमे फिर से मौके देंगे तो सिंचाई के लिए हरेक खेत में पानी पहुंचा भी दिया जाएगा. ताकि किसी भी सूरत में किसानों को परेशानी नहीं झेलनी पड़े. इसके अलावा नीतीश कुमार ने कहा कि गांव में जब किसी के पशु की तबीयत खराब होती है, तो मालिक को काफी दिक्कत होती है. इलाज कराने के लिए डॉक्टर नहीं पहुंच पाते हैं.

सीएम ने कहा कि हम चाहते हैं कि इसके लिए भी काम करे. हमारी योजना है कि गांव में एक टेक्नोलॉजी लाए, जिससे अगर कोई पशु बीमार पड़े तो फौरन उस तकनीक की मदद से अस्पताल में सूचित किया जा सके. जिसके बाद फौरन डॉक्टर जानवरों की इलाज कर सके. इसके लिए हमारी तरफ से फ्री में ही दवाई दिया जाएगा.

सीएम ने कहा कि हमारा बस एक ही काम है. बिहार में विकास का काम करते रहना है. जब तक हम सरकार में रहेंगे, काम करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि लेकिन कुछ लोगों को बस बोलना आता है. कुछ भी बस बोलते रहते हैं. सीएम ने कहा कि उनके पास अनुभव की कमी है, जितना बोलना है बोलते रहे. हमारे बारे में अगर आपको बोलने से आपको अच्छा लगता है, तो आप बोलते रहे. अगर किसी को ऐसा लगता है कि अगर मेरी बुराई करने से आपका भला हो जाता है, तो करते रहिए.

नीतीश कुमार ने कहा कि हमने पर्यावरण के क्षेत्र में भी काम किया है. लगातार हम पेड़ लगा रहे हैं. इसका सकारात्मक असर भी दिखना शुरू हो गया. हमे यूएन से फोन आया कि आपने पर्यावरण के लिए क्षेत्र में काफी काम किया है. आप हमारी टीम को इसके बारे में बताइए. इसके लिए हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अपना काम को यूएन ने सामने रखा.

आपको ये भी बता देते हैं कि जब हमने मानव श्रृंखला बनाया. इसमें कुछ विपक्षी दलों के नेता भी शामिल हुए. लेकिन उन्हें पार्टी से बेदखल कर दिया गया. उन्होंने कहा कि जरा बताइए कि पर्यावरण से किसी को क्या चिढ़ है?. आपके मंसूबे अब लोगों के सामने आ गए हैं. जनता को आपकी सच्चाई भी पता चल चुकी है.

सीएम ने कहा कि अब हमे जो कुछ कहना था कि हमने कह दिया. अब सब आपके हाथों में है. हमें फिर से मौका दीजिए. हमारे उम्मीदवार संजय प्रसाद को जीताइए, ताकि एक बार हम फिर से आपके लिए काम कर सके. बता दें कि सीएम की इस रैली में जेडीयू नेता ललन सिंह, पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी सहित कई नेता मौजूद रहे.