खगड़िया में बोले नीतीश कुमार- सरकारी खजानों पर पहले आपदा पीड़ितों का हक है, हमने उनके लिए भी काम किया

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान समाप्त हो चुका है. अन्य चरणों के मतदान के लिए नीतीश कुमार लगातार सभाएं कर रहे हैं. आज खगड़िया विधानसक्षा क्षेत्र में जनसभा की. जहां उन्होंने उम्मीदवार पूनम देवी के लिए वोट की अपील की. सीएम ने कहा कि महिला और पुरुष दोनों मिलकर काम करते हैं तो राज्य का विकास तय होता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 प्रतिशत तक का आरक्षण हमने पंचायती राज में दिया. जिसके बाद महिला जनप्रतिनिधि के रूप में उभरने लगी. उन्होंने कहा कि पहले बहुत कम संख्या में महिला जनप्रतिनिधि हुआ करती थी. लेकिन अब बिहार पहला राज्य है जहां 50 परसेंट महिला जनप्रतिनिधि है. सीएम ने कहा कि तीन चुनाव हो चुका है और महिला जनप्रतिजिनिधि कितने अच्छे ढंग से अपनी बातों को रखती हैं. उन्होंने आगे कहा कि अभी खगड़िया जिला परिषद की पूर्व चेयरमैन कृष्णा यादव बोल रही थी. उन्होंने कहा कि महिलाओं को एक-एक चीज पता है और वो सब जानती हैं, यह देखकर खुशी होती है.



अपने संबोधन में नीतीश कुमार ने कहा कि हमने हरेक इलाके के लिए काम किया. ऐसा कोई भी इलाका नहीं है, जिसकी उपेक्षा की गई. उन्होंने कहा कि हम कितनी बार खगड़िया आते रहे हैं. पहले भी जब खगड़िया आए हैं तो इस प्रकार का काम नहीं दिखा. लेकिन जबसे आपने काम करने का मौका दिया है तबसे खगड़िया को देखकर मैं हैरान हो गया है. अब तो मैं इस जिले को देखकर अध्यन करता हूं. उन्होंने कहा कि जब हम 2007 में यहां आए तो उस वक्त यहां पानी नहीं आया था. आने वाला था. लेकिन हमने आने के बाद से सब ठीक कर दिया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सरकारी खजानों पर सबसे पहले आपदा पीड़ितों का हक है.

इसको लेकर हमने आपदा पीड़ितों के लिए काम करने की कोशिश की. हर क्षेत्र में काम किया गया. उन्होंने कहा कि बिजली, पानी, नली-गली और तो और गांव में सड़क का निर्माण तक कराया. सीएम ने कहा कि गरीब लोगों को पहले अपने बच्चों को आगे की पढ़ाई के लिए बाहर भेजने में दिक्कत होती थी. लेकिन हमने उसमें भी काम किया. हमने स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 4 लाख तक की सहायता की. इसके अलावा जो आगे पढ़ नहीं सकता लेकिन काम के तलाश में बाहर जाना चाहता हैं. उसे हर दो साल तक एक हजार तक की मदद की गई.

सीएम ने कहा कि एक बात जान लीजिए जिन्हें कंप्यूटर चलाना नहीं आता है, उन्हें काम मिलने में काफी दिक्कत होगी. इसके लिए हम लोगों को कंप्यूटर का प्रशिक्षण दे रहे हैं. इसके लिए हमने कौशल युवा कार्यक्रम का आयोजन किया. इसमें 10 लाख से अधिक लोगों ने प्रशिक्षण लिया. इसके अलावा महिलाओं को पुलिस बल में नियुक्ति होना. हमें लगता है कि बिहार ही ऐसा राज्य है, जहां सबसे ज्यादा महिला पुलिस है. उन्होंने कहा कि  हमने दिसंबर में बिजली को घर में पहुंचाने का लक्ष्य था. लेकिन दो महीना पहले ही उसे पूरा कर लिया गया. सीएम ने कहा कि हमने हर क्षेत्र में काम किया है. उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर अभी काम चल रहा है. उसे भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी कुछ और काम भी पेंडिंग है, अगर एक बार मौका दीजीएगा तो उसे भी जल्द पूरा करेंगे.