रफीगंज में बोले नीतीश कुमार- कुछ लोगों को बस बोलने की आदत है, हमारा सिर्फ काम से मतलब

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सीएम नीतीश कुमार आज एक बार फिर से चुनावी प्रचार में लगे हैं. मुख्यमंत्री औरंगाबाद के रफीगंज में जनसंवाद किया. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला किया.

नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में लोग अपराध का वो दौर भूल गए हैं. जब शाम 7 बजे के बाद लोग अपने घर से नहीं निकलते थे. उन्होंने कहा कि जहां देखिए वहां अपहरण होता था. लेकिन अब किसी को कुछ महसूस नहीं होता है. पूरे प्रदेश में आप कहीं भी आधी रात को भी बेखौफ घूम सकते हैं.   



अपने संवाद में नीतीश कुमार ने कहा कि हमने सात निश्चय योजना के तहत सूबे में काम किया. हर घर नल का जन, नली-गली और पर्यावरण को दुरुस्त करने के लिए भी काम पर विशेष जोर दिया. लेकिन कुछ लोगों हमारी काम रास नहीं आई. उन्होंने कहा कि हमने मानव श्रृंखला का ऐलान किया. कुछ विपक्ष के लोग भी इस अभियान में जुड़ गए. लेकिन कुछ लोगों ने पार्टी से निकाल दिया. जरा बताइए कि पर्यावरण से किसी को क्या समस्या हो सकती है.

बिहार के मुखिया ने कहा कि राज्य में जब पति की सरकरा आई, तो उन्होंने ऐसा काम किया कि आज में जेल में रहना पड़ रहा है. उन्होंने आगे कहा कि उसके बाद जब पत्नी की सरकार आई तो उन्होंने भी कुछ काम करना ठीक नहीं समझा. सीएम ने कहा कि हमने पूरे बिहार के अपना परिवार माना है. लेकिन कुछ लोगों को मेरे काम से आपत्ति है.

नीतीश कुमार ने कहा कि हम बोलने से ज्यादा काम करने में विश्वास रखते हैं. लेकिन हमारे काम से अब लोगों को परेशानी होने लगी. उन्होंने कहा कि हमने पहले ही कहा था हम न्याय के साथ विकास करेंगे. हमने हर इलाके का काम किया. किसी भी क्षेत्र में जाकर देख लीजिए. लेकिन कुछ लोगों को सिर्फ बोलने की आदत है.