10 नवंबर को नीतीश कुमार की विदाई तय है, सीएम के गृह क्षेत्र में खूब गरजे तेजस्वी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में दूसरे चरण के चुनाव के प्रचार-प्रसार का कार्यक्रम आज थमने वाला है. इसको लेकर नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गढ़ में पहुंचे हैं. तेजस्वी यादव ने नालंदा में दो साभाएं की. इस दौरान उन्होंने नीतीश कुमार पर जमकर होला बोला. साथ ही भाषण के दौरान भीड़ से सवाल जवाब करते रहे.

तेजस्वी ने अपने भाषण की शुरुआत बिहार की बुनियादी मुद्दे से की. राज्य में रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि से जुड़े मसलों पर लोगों से बातें की. उन्होंने भीड़ से कहा कि कितने लोगों को रोजगार मिला है?, कितने लोगों का अस्पताल में इलाज ठीक से हो रहा है, कितने लोगों के बच्चे बेहतर स्कूल में पढ़ रहे हैं? उन्होंने इन बुनियादी मुद्दों पर सरकार को जमकर लपेटा. उन्होंने आगे कहा कि बिहार में 15 साल नीतीश कुमार जी ने राज किया. लेकिन क्या एक भी कल कारखाना लगाएं क्या? भ्रष्टाचार खत्म हुआ क्या?



आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि पिछले 15 सालों में नीतीश कुमार जी ने बिहार को कुछ खास नहीं दिया है. उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में पढ़ने की अच्छी सुविधा होती तो छात्र पढ़ने के लिए बाहर नहीं जाते. नौकरी होती तो लोग बाहर काम करने नहीं जाया करते. उन्होंने आगे कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री ने राज्य को और गर्त में डाल दिया है. लेकिन हम आपसे वादा करते हैं कि जब हमारी सरकार बनेगी तो मेरी पहली कलम से 10 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी दी जाएगी. इसके अलावा उसका फॉर्म भी फ्री में भरा जाएगा. यहां तक कि परीक्षा केंद्र में जाने के दौरान लगने वाले किराए भी आपको नहीं देने होंगे.

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि बिहार में स्वास्थ्य की बात करने वाले लोग लगता है कि चमकी बुखार का वो प्रकोप भूल गए हैं. किस प्रकार मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत हुई थी. उन्होंने आगे कहा कि कोरोना काल में लोगों दर-दर भटकने के लिए छोड़ दिया गया. इसके अलावा नीतीश कुमार जी के पिछले कुछ सालों का कार्यकाल उठाकर देख लीजिए कितना अपराध बढ़ा है. उन्होंने कहा कि नालंदा उनका गृह क्षेत्र है. लेकिन कितना काम यहां हुआ है, सब आपके सामने है. इसलिए 10 तारीख को लालू यादव जी की रिहाई है और नीतीश कुमार जी की विदाई तय है.