कोरोना का कहर : बिहार में अब पुनपुन के चिकित्सक की कोरोना से मौत, अब त​क कोविड महामारी से 96 डॉक्टरों की गई जान

लाइव सिटीज, पटना : बिहार में कोरोना की दूसरी लहर का कहर काफी जानलेवा साबित हो रहा है. इससे आम और खास की तो जान जा ही रही है, स्वास्थ्य विभाग को भी बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ रहा है. डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मियों की भी जान जा रही है. ताजा मामला है पटना से सटे पुनपुन का. पुनपुन के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की कोरोना से मौत हो गई है. अब तक बिहार में 96 डॉक्टरों की मौत कोरोना संक्रमण से हो चुकी है.

मिल रही जानकारी के अनुसार, चिकित्सक डॉ अमीरचंद प्रसाद पुनपुन के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर प्रभारी के पद पर पोस्टेड थे. वे 26 अप्रैल से कोरोना पॉजिटिव थे. बीती रात पटना के आइजीआइएमएस में उन्होंने अंतिम सांस ली. खास बात कि 23 अप्रैल को ही उन्होंने अपनी बेटी की शादी की थी. डॉक्टर की मौत से घर में कोहराम मच गया है. डॉक्टर की मौत से पुनपुन में आम लोगों में भी शोक की लहर है, वहीं मृतक के घर में कोहराम मच गया है.

दूसरी ओर आइएमए ने पहले ही सरकार को अलर्ट कर रखा है. सीएम नीतीश कुमार को पत्र भी लिखा था. बताया था कि 14 परसेंट स्वास्थ्यकर्मी बीमार हैं. चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी बिना छुट्टी के महीनों से काम कर रहे हैं. 31 मई तक के लिए फिर से स्वास्थ्यकर्मियों का अवकाश रद्द कर दिया गया है. आइएमए के प्रदेश सचिव डॉ. सुनील कुमार की मानें तो कोरोना ने डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मियों के जीवन पर भी संकट ला दिया है. दोनों लहरों में अब तक 96 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है. इसका आंकड़ा लगातार बढ़ ही रहा है. पहली लहर में 50 डॉक्टरों की मौत हुई थी, जबकि दूसरी लहर में अब तक 46 डॉक्टर काल कवलित हो गये हैं.