ट्विटर पर अब बिहार का दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत कर रहे हैं ट्रेंड, यूजर्स लिख रहे हैं #सुशांत_तेरे_कातिल_जिंदा_है

लाइव सिटीज, पटना : बिहार के बॉलीवुड अभिनेता दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत को आप नहीं भूले होंगे. पिछले साल कोरोना की पहली लहर के दौरान सुशांत सिंह ने कथित रूप से सुसाइड कर लिया था. इस केस में अब तक जांच पूरी नहीं हुई है. आज शनिवार को एक बार फिर सुशांत सिंह राजपूत ट्विटर पर ‘जिंदा’ हो गए हैं. यूजर्स हैशटैग के साथ लिख रहे हैं #सुशांत_तेरे_कातिल_जिंदा_है.

दरअसल, पिछले साल जून माह में 14 जून को सुशांत का शव उनके बांद्रा वाले फ्लैट पर मिला था. इसके बाद तो बिहार से लेकर मुंबई तक हंगामा मच गया था. बिहार पुलिस जांच के लिए मुंबई भी गई थी. जिस समय सुशांत का शव मिला था, उस समय घर पर महज सिद्धार्थ पिठानी और सुशांत का कूक मौजूद थे. पुलिस को भी सिद्धार्थ पिठानी ने ही बुलाया था. तब पुलिस ने सिद्धार्थ से खूब पूछताछ की थी. लेकिन अब इस केस में ड्रग एंगल आने के बाद जांच शिथिल पड़ गई.

दूसरी ओर, सुशांत के पिता व अन्य परिजनों ने सिद्धार्थ पर कई आरोप लगाए थे. वही ​सिद्धार्थ अब अपनी नई जिंदगी की शुरुआत करने जा रहे हैं. वे अपनी सगाई से बहुत खुश हैं. उन्होंने सोशल मीडिया पर इस खुशी को शेयर भी किया है. लेकिन इस खुशी से सुशांत सिंह राजपूत के फैंस खुश नहीं हैं. वे इसे खूब ट्रोल कर रहे हैं. कुछ यूजर्स ने ट्विटर पर यहां तक लिख दिया है कि कर्म कभी किसी का पीछा नहीं छोड़ता, उसका नंबर भी जल्द आएगा.

इसके बाद से ही ट्विटर पर #सुशांत_तेरे_कातिल_जिंदा_है ट्रेंड करने लगा है. शाम के पांच बजने को है और अभी 83 हजार ट्वीट के साथ वह पॉलिटिक्स कैटेेगरी में तीसरे नंबर पर चल रहा है. गौरतलब है कि आज ही बिहार के बिपीपा प्रमुख आनंद मोहन सिंह भी घंटों पॉलिटिक्स कैटेगरी में ट्विटर पर नंबर वन पर रहा. ट्विटर पर यूजर्स #ReleaseAnandMohan लिखकर आनंद मोहन को रिहा करने को कह रहे हें. उन्हें जेल पहुंचाने के पीछे उनके समर्थक नीतीश सरकार को दोषी ठहरा रहे हैं.