लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: पटना के गांधी मैदान में CAA और NRC के विरोध महाधरना आयोजित किया गया है. इस महाधरना का आयोजन कई संगठनों ने किया है. महागठबंधन के नेताओं समेत इमारत- ए- शरिया भी मौजूद रहेंगे. आरजेडी के नेता, रालोसपा के मुखिया उपेंद्र कुशवाहा, पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी और बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी भी गांधी मैदान पहुंचेंगे.

नागरिकता को लेकर विपक्ष लगातार हमलावर है. देशभर में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को विपक्ष लगातार समर्थन दे रहा है. हालांकि इस महाधरना में महागठबंधन तो शामिल जरुर होगा लेकिन नेता प्रतिपक्ष इस धरना में शामिल नहीं होने वाले हैं. बिहार कांग्रेस का भी कोई बड़ा नेता इसमें मौजूद नहीं होगा.

इसके पहले पिछले दिनों महागठबंधन के तमाम नेता ने मुलाकात की थी. इस मीटिंग में शरद यादव, जीतनराम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा और मुकेश सहनी शामिल हुए थे. इस मीटिंग में तेजस्वी यादव नहीं आए थे. हालांकि जब नेताओं से मीडिया ने सवाल पूछा कि तेजस्वी यादव इस मीटिंग में शामिल क्यों नहीं हुए. इसपर किसी नेता ने कोई जवाब नहीं दिया. हालांकि मुकेश सहनी ने यह कहा कि इस मीटिंग के मायने आपलोग निकाल लीजिये.