मनीषा दयाल के आसरा होम की एक और संवासिन की मौत, PMCH में हुई थी भर्ती

पटना, आसरा होम, PMCH, Bihar, Muzaffarpur, Patna News, Bihar News, khabar bihar, bihar khabar, हिंदी बिहार न्यूज़, बिहार खबर, Bihar, बिहार, Patna, पटना , पटना न्यूज़, बिहार न्यूज़, न्यूज़, livecities, Bihar Samachar, Patna Samachar, बिहार समाचार, पटना समाचार, हिंदी समाचार, पटना शेल्टर होम, पटना आसरा गृह, आसरा होम, आसरा गृह, PATNA SHELTER HOME, SHELTER HOME, MUZAFFARPUR SHELTER HOME, AASRA GRIH, PATNA AASRA GRIH, RAJIV NAGAR AASRA GRIH, मनीषा दयाल, manisha dayal, AASRA GRIH, bihar, bihar khabar, bihar news, bihar samachar, khabar bihar, Muzaffarpur Shelter Home, patna, PATNA AASRA GRIH, patna news, Patna Samachar, PATNA SHELTER HOME, RAJIV NAGAR AASRA GRIH, shelter home, आसरा गृह, आसरा होम, न्यूज़, पटना, पटना आसरा गृह, पटना न्यूज, पटना शेल्टर होम, बिहार, बिहार खबर, बिहार न्यूज, हिंदी बिहार न्यूज़, हिंदी समाचार

लाइव सिटीज, पटना : राजधानी के राजीव नगर में स्थित पेज थ्री सेलिब्रिटी मनीषा दयाल का आसरा होम विवादों के साये से बाहर नहीं निकल पा रहा है. आसरा होम के एक और संवासिन की आज शुक्रवार को PMCH में मौत हो गई है. मृतक महिला का नाम अनामिका है और उसकी उम्र 27 साल बताई गई है. मिली जानकारी के अनुसार उक्त महिला को सांस की बीमारी थी, जिसके बाद उसे गुरुवार को PMCH के इमरजेंसी में भर्ती कराया गया था. PMCH अस्पताल प्रशासन ने उसकी मौत की पुष्टि कर दी है.

बता दें कि PMCH में आज हुई इस मौत के बाद अब राजीव नगर के इस आसरा होम में रहने वाली कुल तीन संवासिनों की जान जा चुकी है. इससे पहले यह आसरा गृह तब सुर्खियों में आया था जब 12 अगस्त को इसमें रहने वाली दो महिलाओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की बात सार्वजनिक हुई थी. उन्हें दो दिन पहले इलाज के लिए PMCH लाया गया था, जहां अस्पताल ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था. इसकी जांच भी अभी जारी है. यहां क्लिक कर मनीषा दयाल पर और पढ़ें 

आसरा होम मामला : ड्यूटी पर नहीं थीं सुपरिटेंडेंट डेजी कुमारी, आ गई हैं सवालों के घेरे में

इससे पहले 21 अगस्त को भी दो महिलाओं को पीएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. बताया गया कि 9 अगस्त से अब तक 13 लड़कियां पीएमसीएच में भर्ती हो चुकी हैं और ये सभी कुपोषण की शिकार हैं. आसरा होम की जांच में यह बात सामने आई थी कि यहां रहने वालों महिलाओं को ढंग से भोजन और कपड़े भी नहीं दिए जाते थे. इतना ही नहीं, लाइव सिटीज ने इस बात का खुलासा किया था कि मनीषा दयाल ने 70 से अधिक संवासिनों के स्वास्थ्य की जांच के लिए सिर्फ 1500 रूपये में डॉक्टर और नर्स की नियुक्ति की थी.

इधर गुरुवार को ही इसी आसरा होम से दो संवासिनों के भागने का मामला भी सामने आया है. इस मामले के भी सामने आने के 24 घंटे से अधिक बीत चुके हैं. लेकिन समाज कल्याण विभाग और आसरा होम से जुड़े अधिकारियों के पास कोई सही जवाब नहीं है. महज खानापूर्ति के लिए आसरा होम की सुपरिटेंडेंट बनाई गई डेजी कुमारी ने राजीव नगर थाना में दोनों महिलाओं के फरार होने का एफआईआर दर्ज करा दिया.

पटना पुलिस के हर सवाल का झूठा जवाब दिया है मनीषा दयाल ने, अब कम नहीं होंगी इनकी मुश्किलें

आसरा होम मामले में यहां क्लिक कर और पढ़ें

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*