बिहार में कंपनियों के विकास के लिए पब्लिक रिलेशन समय की बड़ी मांग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : संचार क्रांति आज के आधुनिक युग की सबसे बड़ी जरूरत है. यूं तो पहले भी इसकी जरूरत रही थी तभी तो संचार क्रांति नाम दिया गया. लेकिन 80 और 90 के दशक में भारत में उसने जोर पकड़ना शुरू किया. आज की गला काट प्रतियोगिता के समय में इसकी मांग अधिक बढ़ गई है. पहले तो आत्मप्रशंसा से बचने की शिक्षा दी जाती थी. लेकिन, अब यह कहा जा रहा है कि यदि आप खुद की अपने उत्पाद के बारे में ब्रांडिंग नहीं करेंगे तो आज के दौर में पीछे रह जाएंगे और कोई आपकी सुध लेने वाला सामने नहीं आएगा.

आज के युग में संचार क्रांति लाने के लिए पब्लिक रिलेशन की जरूरत काफी महसूस की जा रही है. इसलिए देश में PR कंपनियां बढ़ती जा रही है. PR कंपनियों ब्रांडिंग के बारे में योजना तैयार करती है. योजना को एक टीम अंजाम तक पहुंचाती है.

बुधवार 17 अप्रैल को सिन्हा लाइब्रेरी रोड स्थित बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के सभागार में रोल ऑफ कम्युनिकेशन एंड पब्लिक रिलेशन इन द डिजिटल एंड न्यू मीडिया वर्ल्ड फॉर इंडस्ट्री एंड सोसायटी विषय समारोह में यह निचोर निकल कर सामने आया. यह आयोजन पब्लिक रिलेशन्स कंसलटेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (पीआरसीएआई) तथा एडवांटेज सर्विसेज के पार्टनरशिप में किया गया. पीआरसीएआई के पूर्वी भारत के प्रमुख खुर्शीद अहमद ने कहा कि उनकी कंपनी एडवांटेज सर्विसेज पिछले दस साल से पीआरसीएआई की सदस्य है.

इस मौके पर अपना विचार व्यक्त करते हुए बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष की केपीएस केसरी ने पब्लिक रिलेशन के महत्व के बारे में स्वीकार किया और कहा कि पहले से ही हम अपने ग्राहकों को संतुष्ट करने का काम करते आ रहे थे. लेकिन, आधुनिक युग में इसका रूप बड़ा हो गया है. इसलिए हमें अपने उत्पाद की ब्रांडिंग पीआर के माध्यम से करनी चाहिए.

वहीं, पीएचडी चैंबर्स के चेयरमैन सत्यजीत कुमार सिंह ने कहा कि अब मल्टीनेशनल कंपनियां प्रचार में क्षेत्रीय भाषा का प्रयोग करती है, तो हम बिहार के लोगों को भी इस बारे में गंभीरता से सोचने की जरूरत है. उन्होंने पेप्सी और युनिलीवर का नाम लेते हुए कहा कि यह कंपनियां अपने उत्पाद का प्रचार भोजपुरी और बांग्ला में करती हैं. अभी विदेशी मॉडल पर हम काम कर रहे हैं. इसलिए हमें इंडियन मॉडल बनाना चाहिए. उन्होंने माना कि आज के समय में संचार के बिना आप विकास नहीं कर सकते. इसके जवाब में मॉडरेटर अनूप शर्मा ने कहा कि इंडियन मॉडल भी बन रहा है लेकिन तब तक वर्तमान मॉडल पर काम करते रहिए.

About परमबीर सिंह 1154 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*