सैंकड़ों यात्री फंसे थे फ्लाइट्स के भीतर, रिस्‍क लेकर पटना में हो रही है विमानों की लैंडिंग

लाइव सिटीज, पटना : आज 29 दिसंबर को पटना में रात आठ बजे के बाद कोहरा बहुत अधिक घना हो गया था . पास में भी कुछ नहीं दिख रहा था . ऐसे में, गंभीर रिस्‍क लेकर पटना एयरपोर्ट पर कई विमानों की लैंडि़ंग कराई गई . लेकिन इसके बाद मामला और बिगड़ गया . गंभीर संकट पैदा हो गया . संकट इतना बड़ा कि रात को स्‍पेशल अरेंजमेंट करने पड़े और यह भी तब संभव हो पाया,जब लाइव सिटीज की ब्रेकिंग खबर ने न सिर्फ एयरपोर्ट मैनेजमेंट को तुरंत एक्टिव होने को मजबूर किया, बल्कि स्‍टेट एडमिनिस्‍ट्रेशन को भी रात की नींद तोड़ जग जाने को कहा .

समस्‍या ऐसे पैदा हुई कि रनवे पर लैंड कर चुके कई विमान पार्किंग तक पहुंचने की स्थिति में नहीं थे . विजिव‍लिटी तो गायब थी ही, साथ में पार्किंग में टेक ऑफ के लिए पहले से कई विमान खड़े थे . ऐसे में, रनवे पर खड़े विमानों के भीतर यात्री कैद हो गये . फ्लाइट के भीतर न पायलट और न ही क्रू मेंबर्स कुछ भी बता पाने की स्थिति में थे . घंटे के बाद कई घंटे गुजरते चले जा रहे थे .



विमान में फंसे यात्रियों ने लाइव सिटीज को सबसे पहले संपर्क किया और किसी भी तरीके से बाहर निकालने की व्‍यवस्‍था कराने का अनुरोध किया . लाइव सिटीज ने इसके बाद विमान के भीतर की लाइव तस्‍वीरों के साथ स्थिति दिखाई . फिर सभी जगने शुरु हुए . तेज ऑपरेशन की तैयारी की गई .

विमान में बंद बच्चे हो रहे परेशान, रो रहे हैं

 

रात 12 बजे तक विमानों में फंसे सभी यात्री निकाल लिए गए थे . अब भी एयरपोर्ट पर काफी भीड़ लगी हुई थी . अपने परिचितों को रिसीव करने आए लोग बाहर परेशान थे . एयरपोर्ट के जानकार कहते हैं कि आज स्थिति ज्‍यादा ही खराब थी . पहली फ्लाइट शाम को 4.40 बजे लैंड की थी . कुछ फ्लाइट लैंड किए और टेक ऑफ किए .

पटना में लैंड करने के बाद घंटों से विमान में ही बंद हैं कई फ्लाइट के यात्री

Patna Airport : शाम 4:40 में आई पहली फ्लाइट, बाकी कब आयेगी-जायेगी, किसी को पता नहीं

पर इसके बाद विजिवलिटी और भी कम हो गई . कइयों ने कहा कि लैंडिंग की पोजीशन नहीं है. लेकिन कई फ्लाइट गंभीर रिस्‍क लेकर लैंड कराए गए, जोकि सिक्‍योरिटी कारणों से ठीक नहीं था . रनवे पर खड़े विमान से यात्रियों को तभी निकाला जाता है,जब इमरजेंसी हालात हों . रनवे पर जेनरल ऑपरेशन में लगेज की ऑफलोडिंग भी नहीं कराई जाती है . यात्रियों का गुस्‍सा इसलिए है कि पटना एयरपोर्ट पर कोई सही-सही वास्‍तविक स्थिति की जानकारी भी नहीं देता है.