आसरा होम मामला : ड्यूटी पर नहीं थीं सुपरिटेंडेंट डेजी कुमारी, आ गई हैं सवालों के घेरे में

पटना, आसरा होम, PMCH, Bihar, Muzaffarpur, Patna News, Bihar News, khabar bihar, bihar khabar, हिंदी बिहार न्यूज़, बिहार खबर, Bihar, बिहार, Patna, पटना , पटना न्यूज़, बिहार न्यूज़, न्यूज़, livecities, Bihar Samachar, Patna Samachar, बिहार समाचार, पटना समाचार, हिंदी समाचार, पटना शेल्टर होम, पटना आसरा गृह, आसरा होम, आसरा गृह, PATNA SHELTER HOME, SHELTER HOME, MUZAFFARPUR SHELTER HOME, AASRA GRIH, PATNA AASRA GRIH, RAJIV NAGAR AASRA GRIH, मनीषा दयाल, manisha dayal, AASRA GRIH, bihar, bihar khabar, bihar news, bihar samachar, khabar bihar, Muzaffarpur Shelter Home, patna, PATNA AASRA GRIH, patna news, Patna Samachar, PATNA SHELTER HOME, RAJIV NAGAR AASRA GRIH, shelter home, आसरा गृह, आसरा होम, न्यूज़, पटना, पटना आसरा गृह, पटना न्यूज, पटना शेल्टर होम, बिहार, बिहार खबर, बिहार न्यूज, हिंदी बिहार न्यूज़, हिंदी समाचार
आसरा होम (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, पटना : चिरंतन कुमार और मनीषा दयाल के जेल चले जाने के बाद भी पटना के आसरा होम का मामला थमता नहीं दिख रहा है. इससे जुड़ा कोई न कोई मामला अक्सर सामने आ ही जाता है. ताजा मामला दो महिलाओं के गायब होने का है. गुरुवार को ये मामला सामने आया था. 24 घंटे से अधिक बीत चुके हैं. लेकिन समाज कल्याण विभाग और आसरा होम से जुड़े अधिकारियों के पास कोई सही जवाब नहीं है. महज खानापूर्ति के लिए आसरा होम की सुपरिटेंडेंट बनाई गई डेजी कुमारी ने राजीव नगर थाना में दोनों महिलाओं के फरार होने का एफआईआर दर्ज करा दिया. मामला सामने आने के बाद से पुलिस टीम गायब महिलाओं के बारे में पता करने में जुटी है. वो कहां—कहां जा सकती हैं, इसके बारे में पता लगाया जा रहा है.

एसएसपी मनु महाराज के अनुसार बुधवार की रात में दोनों भागी हैं. किचन की खिड़की के रास्ते भागने की बात सामने आई है. पुलिस की महिला जवान और होमगार्ड के जवान को सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया था. उन्हें आसरा होम के अंदर जाने की इजाजत नहीं थी. बताया जा रहा है कि गायब दोनों महिलाओं में से एक महिला पहले भी भाग चुकी है. जिसे गाय घाट से बरामद किया गया था. फिलहाल पुलिस की टीम दोनों को तलाशने में जुटी है.

नहीं कर सकते इस बारे में कोई बात

चिरंतन कुमार और मनीषा दयाल को जेल भेजे जाने के बाद समाज कल्याण विभाग ने आसरा होम चलाने की जिम्मेवारी डेजी कुमारी को दे दी थी. बतौर सुपरिटेंडेंट इनकी पोस्टिंग आसरा होम में की गई. वहां रह रही लड़कियों और महिलाओं की देख—रेख का जिम्मा इन्हीं का था. लेकिन इन्होंने भी लापरवाही बरती.

एफआर्इ्आर के अनुसार डेजी कुमारी ने लिखा है कि महिलाओं के गायब होने की जानकारी उन्हें कॉल कर सुपरवाइजर मीरा कुमारी ने दी थी. वो भी मीरा कुमारी को तब पता चला जब गुरुवार की सुबह नाश्ते के लिए सबकी काउंटिंग की गई थी. अब सवाल ये है कि जिस वक्त महिलाएं वहां से भागी तो उस दौरान सुपरिटेंडेंट डेजी कुमारी खुद कहां थीं? इस बारे में बात करने के लिए जब डेजी कुमारी को उनके मोबाइल नंबर 8340581685 पर कॉल किया गया तो उन्होंने कुछ भी बोलने से साफ मना कर दिया. डेजी कुमारी ने कहा कि इस बारे में कोई बात नहीं कर सकते.

बोलने से भाग रहे हैं असिस्टेंट डायरेक्टर

10 अगस्त को राजीव नगर स्थित आसरा होम चर्चा में आया था. तब से ये लगातार सुर्खियों में बना हुआ है. आश्चर्य वाली बात ये है कि कोई ठोस कदम उठाना तो दूर, समाज कल्याण विभाग के अधिकारी इस मामले में कुछ बोलना भी मुनासिब नहीं समझते हैं.

दो महिलाओं के फरार होने का ये नया मामला सामने आने के बाद ही गुुरुवार की रात समाज कल्याण विभाग के बाल संगठन के असिस्टेंट डायरेक्टर दिलीप कुमार कामत को उनके मोबाइल नंबर 9113167218 पर कॉल किया गया था. लेकिन उन्होंने रिसीव नहीं किया. फिर शुक्रवार की शाम को भी इन्हें कॉल किया गया. उस वक्त उन्होंने कॉल रिसीव किया और मीटिंग में होने की बात कह कॉल काट दिया. करीब एक घंटे से अधिक देरी के बाद दोबारा उन्हें कॉल किया गया. लेकिन उन्होंने रिसीव नहीं किया.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*