सांसद पप्‍पू यादव की गिरफ्तारी पर रोक, हॉस्पिटल में बंधक को छुड़ाने के बाद हुआ था FIR

PAPPU-JAP
सांसद पप्पू यादव

पटना : जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने बिहार पंचायत राज (संशोधन) अध्‍यादेश 2017 को निरस्‍त करने की मांग की है. आज सोमवार को पटना में उन्‍होंने कहा कि अध्‍यादेश लोकतंत्र की आत्‍मा के विपरीत है और लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन है. यादव ने कहा कि पंचायत राज अधिनियम – 2006 और 14वें वित्‍त आयोग के दिशा-निर्देशों के विपरीत अध्‍यादेश है. यही कारण है कि पिछले एक वर्ष से पंचायतों को मिलने वाली राशि खर्च नहीं हो पा रही है.

सांसद ने कहा कि राज्‍य सरकार के सात निश्‍चय की योजनाओं को अपने संसाधनों से पूरा करना था, लेकिन ग्राम पंचायत की राशि का 80 फीसदी पेयजल और गली-नली पक्‍कीकरण योजना पर खर्च हो रहा है. इससे पंचायतों का विकास बाधित हो रहा है. उन्‍होंने कहा कि पटना उच्‍च न्‍यायालय ने भी अध्‍यादेश को असंवैधानिक करार दिया है. यादव ने कहा कि पंचायत राज व्‍यवस्‍था को कारगर और प्रभावी बनाने के लिए अध्‍यादेश को रद्द किया जाना चाहिए. फिर बंधक मरीज को मुक्‍त कराया पप्‍पू यादव ने, हर दिन जोड़ रहा था 1 लाख का बिल

Pappu-Hospital (2)

पप्‍पू यादव की गिरफ्तारी पर रोक

पटना जिला एवं सत्र न्‍यायालय ने सांसद पप्‍पू यादव की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है. कंकड़बाग थाना के केस संख्‍या 975/17 की सुनवाई के दौरान अदालत ने सांसद के खिलाफ दंडात्‍मक कार्रवाई पर रोक लगाते हुए मामले को अपर जिला एवं सत्र न्‍यायालय – 10 को स्‍थानांतरित कर दिया है. इस मामले की अगली सुनवाई इसी अदालत में होगी. पार्टी के अधिवक्‍ता प्रकोष्‍ठ के प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार, राष्‍ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद और प्रवक्‍ता श्‍याम सुंदर यादव ने न्‍यायालय द्वारा सांसद की गिरफ्तारी पर रोक लगाने के फैसले का स्‍वागत किया है.

बता दें कि यह गिरफ्तारी पटना के कंकड़बाग थाने के शिवा हॉस्पिटल मामले में होनी थी. 10 दिसंबर को पप्पू इस हॉस्पिटल में शमां परवीन नामक महिला को छुड़ाने गए थे. आरोप था कि शिवा हॉस्पिटल गलत इलाज के बाद जबरिया वसूली के लिए शमां परवीन को बंधक बनाए हुए है. पप्पू ने मीडिया और पुलिस की मौजूदगी में मरीज को छुड़ाया भी था. बाद में इस मामले में अस्पताल ने सांसद समर्थकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी. फिर कंकडबाग के ASI राकेश कुमार निराला ने सांसद पप्पू यादव और उनके 100 समर्थकों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था.

पप्‍पू बोले : 5 नहीं 50 करोड़ की ‘सुपारी’ जमा कर लें फर्जी अस्‍पताल-डाक्‍टर, बचेंगे नहीं
अस्पताल-डॉक्टर से परेशान हैं तो पप्पू यादव को करें फ़ोन, शैम्पू लगाकर होगी धुलाई

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*