VIDEO : पटना में मगध महिला कॉलेज की स्टूडेंट्स का प्रदर्शन, सब बोलीं – वी वांट शशि मैम

mm-colej11

लाइव सिटीज, देवांशु प्रभात :  पिछले 11 जुलाई को पटना के मगध महिला कॉलेज की प्राचार्या शशि शर्मा ने अपना इस्तीफा वीसी को सौप दिया था. आज पटना मगध महिला कॉलेज के छात्राओं ने शशि शर्मा को वापस कॉलेज में लाने की मांग को लेकर कॉलेज गेट पर जमकर हंगामा किया. साथ ही शशि शर्मा को पुनः मगध महिला कॉलेज की प्राचार्या स्थापित करने की मांग की. छात्राओं ने कुलपति पर आरोप लगाते हुए कहा कि शशि मैडम के रहते कॉलेज में बहुत काम हुए. साथ ही कॉलेज में पढ़ाई का महौल बना.

छात्राओं ने कहा कि शशि मैडम के रहते वे लोग इस कॉलेज में खुद को सुरक्षित महसूस करने लगी थी. इसके बावजूद वीसी ने साजिशन उनसे इस्तीफा दिलवाया है. आज वीसी के खिलाफ हमलोगों ने हल्ला बोला है. इसके साथ ही छात्राओं ने पीयू कैम्पस का भी घेराव किया. आगे देखें वीडियो रिपोर्ट…

डिमोट होने के बाद दिया था इस्तीफा

मालूम हो कि पटना विश्वविद्यालय प्रशासन ने मगध महिला कॉलेज की प्राचार्य डॉ. शशि शर्मा को प्रोफेसर पद से रीडर पद पर डिमोट कर दिया था. पीयू प्रशासन के इस फैसले के बाद डॉ. शर्मा ने मगध महिला कॉलेज के प्राचार्य पद से इस्तीफा दे दिया. यही नहीं कुलपति डॉ.रासबिहारी सिंह को भेजे गए अपने इस्तीफा में डॉ. शर्मा ने उन पर व्यक्तिगत खुन्नस निकालने और जाति के आधार पर भेदभाव का आरोप लगाया. डॉ. शर्मा ने कहा कि पीयू प्रशासन के भेदभाव और उन्हें डिमोट किए जाने के फैसले के विरोध में वे कोर्ट जाएंगी.

इस मामले में पीयू प्रशासन का कहना है कि यह निर्णय तय नियमों के आधार पर लिया गया है. विवि सिंडिकेट ने इस फैसले को अप्रूव किया है. इधर प्राचार्य पद से शशि शर्मा का इस्तीफा मंजूर कर विवि प्रशासन ने रसायन विभाग की प्रोफेसर बीना रानी को कॉलेज का प्राचार्य बनाया है. बीना रानी ने प्राचार्य पद भी संभाल लिया.

mm-colej13

क्या है पूरा विवाद

बता दें कि 7 अक्टूबर 2013 को डॉ. शशि शर्मा को पटना विवि प्रशासन ने राजनीति विज्ञान विभाग में प्रोफेसर के पद पर प्रोन्नति दी. डॉ. शर्मा को 22 दिसंबर 1994 की तिथि से मेरिट प्रमोशन स्कीम के तहत प्रमोशन दिया गया था. बाद में हाईकोर्ट गए एक मामले में इन प्रोन्नतियों को रिव्यू करने का निर्देश दिया गया. रिव्यू करने के लिए बनी सेलेक्शन कमेटी ने डॉ. शशि शर्मा के मेरिट प्रमोशन को रद्द करने की सिफारिश की थी. बाद में पीयू सिंडिकेट ने 30 जून 2018 को सेलेक्शन कमेटी की सिफारिश को मानते हुए डॉ. शर्मा की प्रोन्नति को रद्द कर दी. 9 जुलाई को इसकी अधिसूचना जारी की गई.

फतुहा के स्कूल में छात्र की मौत पर फूटा पप्पू यादव का गुस्सा, कह दिया अब नहीं छोड़ेंगे ऐसे स्कूलों को. देखें वीडियो में…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*