फुलवारी में हिंसा भड़काने का आरोपी संजीत पकड़ा गया, खुद को बताता था बजरंग दल का हेड

SANJIT-YADAV1
आरोपी संजीत की फाइल फोटो

पटना : पिछले दिनों राजधानी में फुलवारी शरीफ इलाके के इसोपुर और इसके आसपास के इलाके में जो हिंसक वारदातें हुई, उसे जानबूझकर क्रियेट किया गया था. ये एक सोची—समझी साजिश थी. पटना पुलिस की जांच में ये बात पूरी तरह से साफ हो चुकी है. इस साजिश के पीछे इसोपुर के ही रहने वाले संजीत कुमार उर्फ संजीत यादव का हाथ था. जो बजरंग दल से जुड़ा है. ये खुद को फुलवारी शरीफ इलाके में बजरंग दल का हेड बताता था.

पटना पुलिस के अनुसार हिंसक वारदात की शुरूआत इसने ही की थी. पहले दिन इसने फायरिंग की थी. कई राउंड गोलियां चलाने के बाद ये मौके से फरार हो गया था. हिंसक वारदात थमने के बाद जब पुलिस टीम ने पूरे मामले की सही तरीके से जांच की तो मुख्य आरोपी के रूप में संजीत का ही नाम सामने आया.



फुलवारी शरीफ थाने में इस हिंसक वारदात को लेकर एक—दो नहीं, बल्कि पूरे 5 एफआईआर दर्ज किए गए थे. खास बात ये कि इन सभी एफआईआर में संजीत कुमार नामजद था. हालांकि वारदात के बाद से ही संजीत घर छोड़कर फरार हो गया था. लेकिन पटना पुलिस की टीम लगातार इसे तलाश रही थी. अब जाकर पुलिस टीम के हाथ सफलता लगी.

पटना के फुलवारी में अब सब अंडर कंट्रोल, 15 की हो चुकी है अरेस्टिंग
फुलवारी में 125 को नोटिस, श्याम रजक के साथ DM-SSP का 5 किमी लंबा पैदल मार्च
फुलवारी मामले पर और पढ़ें

फुलवारी शरीफ के ही एक इलाके से पुलिस टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया है. एसएसपी मनु महाराज ने इसके गिरफ्तारी की पुष्टि की है. इस मामले में अभी और भी गिरफ्तारियां होंगी. कई आरोपी अब भी फरार चल रहे हैं. जिनकी तलाश पटना पुलिस की टीम को है. गिरफ्तारी के लिए लगातार पुलिस टीम छापेमारी कर रही है.