दिन बालू के लिए हंगामा करने वालों का था, अब रात पुलिस का है

SSP
फाइल फोटो

पटना : बालू के लिए मंगलवार को पूरे दिन ट्रक आॅपरेटर और उनके समर्थकों ने जमकर हंगामा किया. अगमकुआ और दानापुर से लेकर मनेर तक जगह—जगह रोड जाम किए गए. बाइक में आग लगा दी गई. दानापुर के एसडीएम की गाड़ी पर ​हमला किया गया. देर शाम तक बवाल और हंगामा होता रहा. पुलिस पर पत्थर फेंके गए. फिर भी पटना पुलिस शांत रही और हंगामा करने वालों को शांत कराने में लगी रही. लेकिन वो मानने वाले नहीं थे. पुलिस की एक नहीं सुनी.

उनकी गुंडागर्दी जारी रही. उन्हें तो सिर्फ गुंडागर्दी के जरिए अपनी डिमांड बिहार सरकार से मंगवानी है. जिसके लिए वो किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं. हर हाल में बालू के लिए बनाई गई बिहार सरकार की नई नीति को वापस करवाना चाहते हैं. जिस कदर लॉ एंड आॅर्डर को इन लोगों ने डिस्टर्ब किया और पूरे दिन गदर मचाया. उसे पटना पुलिस ने काफी गंभीरता से लिया है. मंगलवार का पूरा दिन बालू के लिए हंगामा करने वालों का था. लेकिन अब रात पुलिस की है. पटना पुलिस ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है.



sand-maner15
मनेर में हुई आगजनी

चुन—चुन कर होगी गिरफ्तारी

बालू के लिए हंगामा करने वालों के खिलाफ पटना पुलिस ने कड़ा रूख ​अख्तियार कर लिया है. पटना जिले के 4 थानों में अलग—अलग एफआईआर दर्ज किए गए हैं. जिनमें अगमकुआं, दानापुर, शाहपुर और मनेर थाना शामिल हैं. हर एफआईआर में काफी सारे लोगों को नामजद किया गया है. जबकि बड़ी संख्या में अज्ञात लोग भी हैं.

इंटरनल सोर्स और वीडियो फुटेज के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई को शुरू कर दिया है. अब तक 20 से अधिक लोगों को अलग—अलग जगहों से पुलिस ने अपने हिरासत में लिया है. पुलिस कप्तान मनु महाराज ने साफ कर दिया है कि हंगामा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई है. चुन—चुन कर हंगामा करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा.

बालू पर बढ़ा बवाल : मनेर में गुस्साए लोगों का पुलिसकर्मियों पर हमला, जिप्सी में लगाई आग
आराः सड़क पर उतरे बालू व्यवसायी और मजदूर तो धड़ाधड़ गिर गए शटर, रोक दी गईं कई ट्रेनें भी