IMPACT : पटना के ट्रैफिक थानेदार सस्पेंड, विकास आर्या मामले में SSP का एक्शन

पटना : लाइव सिटीज की खबर का बड़ा असर हुआ है. 13 साल के बच्चे पर अपनी पोस्ट का रौब दिखाने वाले पटना के एडीएम स्पेशल विरेन्द्र कुमार पासवान की मुश्किल बढ़ गई है. पटना के एसएसपी मनु महाराज ने इस मामले में गांधी मैदान ट्रैफिक थाना के थानेदार शशि शेखर चौहान को सस्पेंड कर दिया है. थानेदार शशि शेखर चौहान पर एडीएम की हनक के आगे नतमस्तक होने और एक नाबालिग बच्चे को जमानती धाराओं के बावजूद जमानत नहीं देने का आरोप है. एसएसपी ने पहले उन्हें बुलाकर पूछताछ की और फिर चौहान के जवाब से संतुष्ट न होने पर बड़ी कार्रवाई कर दी.

बता दें कि मंगलवार शाम को लाइव सिटीज ने एडीएम स्पेशल विरेन्द्र कुमार पासवान द्वारा एक बच्चे पर अपना रौब दिखाने की खबर को प्रमुखता से पब्लिश किया था. इसके बाद ही पटना एसएसपी मनु महाराज ने लाइव सिटीज की खबर का संज्ञान लिया और आज बुधवार को ट्रैफिक थानेदार को तलब किया था. अब पटना एसएसपी मनु महाराज इस पूरे मामले का खुद सुपरविज़न करेंगे.



SSP-VIKAS-ARYA
एसएसपी से मिलते विकास आर्या के परिजन
SSP से मिली विकास आर्या की फैमिली

पटना के ककंड़बाग में अपनी मां के साथ रहने वाले 13 साला के विकास आर्या की फैमिली आज बुधवार को एसएसपी मनु महाराज से मिलने पहुंची थी. फैमिली ने एसएसपी से विकास आर्या की जल्द से जल्द रिहाई की मांग की है. आर्या के परिजनों ने एसएसपी से गांधी मैदान ट्रैफिक थाना के पुलिसकर्मियों की गंभीर शिकायत भी की है. उनका कहना है कि बच्चे से मिलने के लिए पुलिसवालों ने 10 हजार रूपये की मांग भी की है. एसएसपी ने उन्हें कार्रवाई की बात कही थी.

ADM के खिलाफ देंगे रिपोर्ट

एसएसपी मनु महाराज ने लाइव सिटीज को बताया है कि वो मामले का खुद सुपरविज़न कर रहे हैं. सुपरविज़न के बाद वे पटना के जिलाधिकारी संजय अग्रवाल को एडीएम स्पेशल विरेन्द्र कुमार पासवान के खिलाफ रिपोर्ट देंगे. एसएसपी ने बताया है कि ADM स्पेशल के खिलाफ IPC की धारा 182 और 211 के तहत कार्रवाई करने के लिए कहेंगे.

ये है मामला

मंगलवार को पटना में एडीएम ने अपने पोस्ट की हनक दिखाई थी. वो भी 13 साल के एक बच्चे पर. पहले उसे घंटों पुलिस की कस्टडी में रखवाया. फिर एक थाना से दूसरे थाने में भिजवाया. बच्चे को पूरी रात थाना में रखा गया. फिर सुबह हुई, दोपहर हुआ. फैमिली वाले लगातार मिन्नते करते रहे. लेकिन एडीएम का दिल जरा भी नहीं पिघला. पुलिस ने बच्चे को मजिस्ट्रेट के पास पेश कर दिया और फिर उसे पटना सिटी स्थित रिमांड होम भेज दिया गया.

Exclusive : एडीएम ने दिखा दी बच्चे पर हनक, रात भर थाने में रख फिर भिजवा दिया रिमांड होम