पटना यूनिवर्सिटी में चला PK का जादू, JDU के मोहित प्रकाश ABVP को 1211 वोट से हरा बने अध्यक्ष

लाइव सिटीज, देवांशु प्रभात/अंजनी पांडेय : पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में छात्र जदयू को अप्रत्याशित जीत मिली है. छात्र जदयू ने PUSU के सेंट्रल पैनल में अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष पदों पर जीत हासिल की है. उनके अलावा बाकी तीनों उपाध्यक्ष, ज्वाइंट सेक्रेट्री और जनरल सेक्रेटरी की कुर्सी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के हाथ लगी है. PUSU के अध्यक्ष पद पर जीते जदयू समर्थित कैंडिडेट मोहित प्रकाश ने एबीवीपी के अभिनव कुमार को 1211 मतों से शिकस्त दी है. मोहित को 3477 जबकि अभिनव को 2266 वोट मिले हैं. इनमें तीसरे नंबर पर लेफ्ट समर्थित भाग्य भारती रहीं जिन्हें 1940 वोट मिले.

बता दें कि पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में इस बार खासा हंगामा देखने को मिला. इन चुनावों के 2 दिन पहले जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर की पटना यूनिवर्सिटी के वीसी रासबिहारी सिंह से मुलाकात को लेकर अन्य छात्र संघ खासे नाराज हो गए थे. आगे देखें सभी पदों पर कैंडिडेट्स को मिले वोट की पूरी लिस्ट :

पटना यूनिवर्सिटी के साइंस कॉलेज में बनाए गए मुख्य काउंटिंग सेंटर के बाहर अन्य छात्र संगठन के प्रतिनिधियों ने जमकर अपनी भड़ास भी निकाली. उन्होंने प्रशांत किशोर पर सीधे-सीधे छात्र संघ चुनाव को प्रभावित करने का गंभीर आरोप भी लगाया. हालांकि इन आरोपों को मोहित प्रकाश ने गलत बताया. उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर हमारी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं और उन्होंने बस इसी हैसियत से हमारे संगठन की जीत में सहयोग किया है.

मालूम हो कि पटना साइंस कॉलेज में सेंट्रल पैनल के लिए काउंटिंग सेंटर बनाया गया है. काउंटिंग शुरू होने के लिए शाम 4 बजे का ही समय निर्धारित था. हालांकि विभिन्न वोटिंग सेंटर्स से बैलट बॉक्स को साइंस कॉलेज लाने में ही शाम 7 बजे से ज्यादा का वक़्त हो गया. सेंट्रल पैनल के लिए वोटों की गिनती का काम रात 11:30 बजे के बाद ही शुरू हो सका.

PUSU इलेक्शन : कॉलेज काउंसिलर पदों पर सभी पार्टियों की मिलीजुली जीत, देखें लिस्ट

बता दें कि इससे पहले पटना यूनिवर्सिटी केविभिन्न कॉलेजों में काउंसिलर के पदों के नतीजे आ गए हैं. इन नतीजों में सभी दलों ने मिलीजुली जीत दर्ज की है. बड़ी संख्या में स्वतंत्र उम्मीदवारों ने भी जीत दर्ज की है. इनमें काउंसिलर के छह पदों पर कैंडिडेट्स की निर्विरोध जीत हुई है. कुल 29 पदों के लिए कुल 114 कैंडिडेट मैदान में थे, जिनमें 6 की निर्विरोध जीत के बाद अब 108 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होना है. इस बार 20 हजार से ज्यादा छात्र मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है.

PU21
साइंस कॉलेज सेंटर पर तैनात पुलिस बल

सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम

सुरक्षा के लिहाज से बात करें तो बीते छात्रसंघ चुनाव के मुकाबले इस बार तीन स्तरीय सुरक्षा की व्यवस्था की गई है. मौके पर खुद एसडीएम भी मौजूद है. अशोक राजपथ पर ब्रज वाहन की तैनाती की गई. पटना साइंस कॉलेज के मेन गेट को बंद कर दिया है, ताकि कोई भी छात्र अंदर न आ सके. पिछली बार साइंस कॉलेज का मेन खुला हुआ था. जिसकी वजह से छात्र अंदर आ गये थे. और उत्पात मचाने लगे थे. लेकिन इस बार पिछले बार से हिसाब से सुरक्षा काफी टाइट है.

साथ ही इस बार सीसीटीवी से निगरानी भी की जा रही है. जिसका कंट्रोल रूम काउंटिंग वाले भवन के पास है और लगातार हर गातिविधि पर पैनी नजर रखी जा रही है. क्विक मोबाइल कई टीम लगातार अशोक राज पर गश्त कर रही है.

कुल 58 परसेंट के साथ कहां कितनी वोटिंग :

  • वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज में 80 परसेंट,
  • बीएन कॉलेज में 53.39 प्रतिशत वोटिंग,
  • पटना कॉलेज में 60 प्रतिशत मतदान,
  • वाणिज्य महाविद्यालय में 49 प्रतिशत वोटिंग,
  • पटना साइंस कॉलेज में 65 प्रतिशत ,
  • पटना लॉ कॉलेज 54.7 प्रतिशत वोटिंग,
  • पटना ट्रेनिंग कॉलेज में 66 प्रतिशत वोटिंग,
  • फ़ैकल्टी ऑफ साइंस में 50.6 प्रतिशत,
  • फैकल्टी ऑफ सोशल साइंसेज में 43.63 प्रतिशत,
  • फ़ैकल्टी ऑफ ह्यूमेनिटीज में 39.6 प्रतिशत,
  • फ़ैकल्टी ऑफ कॉमन एजुकेशन में 50.99 प्रतिशत वोटिंग,
  • आर्ट्स कॉलेज में 84 प्रतिशत वोटिंग.

साइंस कॉलेज सेंटर से देवांशु प्रभात के साथ

About Anjani Pandey 716 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*