लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में चुनावी साल है और लगातार वार-पलटवार का दौर जारी है. कुछ दिनों के लिए थम गए पोस्टवार का नया संस्करण जारी हुआ है. पटना की सड़कों पर फिर एक पोस्टर है. पोस्टर में बिहार सरकार को ट्रबल इंजन की सरकार बताया गया है. वहीं सीएम नीतीश कुमार को लूट एक्सप्रेस तो डिप्टी सीएम सुशील मोदी को झूठ एक्सप्रेस बताया गया है.

पटना की सड़कों पर जो ताजा पोस्टर है उसमें सुशील मोदी और नीतीश कुमार की तस्वीर है. एनडीए के डबल इंजन की सरकार वाली स्लोगन पर तंज कसा गया है.

बिहार में ट्रबल इंजन की सरकार

डबल इंजन की सरकार वाले स्लोगन पर तंज करते हुए पोस्टर में बिहार सरकार को ट्रबल इंज की सरकार बताया गया है. इससे पहले भी पटना में नए साल में पोस्टरवार का काफी सिलसिला चला था. अपने पिछले पोस्टर में जेडीयू ने लालू यादव के फुलवरिया का जिक्र किया था और उसकी बदहाली को दिखाया था. हालांकि पिछले कुछ दिनों से पोस्टर वार थम गया था लेकिन आज उसका नया एडिशन जारी हुआ है.

लालू और नीतीश के बीच तुलना

इससे पहले भी जेडीयू और राजद के बीच पोस्टर के माध्यम से लगातार वार-पलटवार चल रहा था. जेडीयू ने पोस्टर जारी कर राजद से 15 साल का हिसाब मांगा था. इसमें नीतीश कुमार की तुलना लालू यादव के शासन काल से की गई थी. लालू यादव को कुशासन और बदहाली तो वहीं नीतीश कुमार को शांति और विकास का प्रतीक बताया गया था. इसके बाद राजद की तरफ से भी पोस्टर जारी किया गया था.

आरजेडी की तरफ से पोस्टरों में लालू-नीतीश के बीच तुलना करते हुए राजद सुप्रीमो को ‘जनता का मददगार’ तो वहीं सीएम नीतीश को ‘जनादेश का व्यापार’ करने वाला बताया गया था. वहीं लालू को ‘जनसेवा का जनक’ बताया गया तो दूसरी तरफ नीतीश को ‘कुर्सी की सनक’ वाला शख्स बताया गया था.

पवन वर्मा चिट्ठी पर सियासत, तेजस्वी यादव भी कूदे मैदान में, ट्वीट कर साधा निशाना