आ गई है पटना के अपर नगर आयुक्त की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, और उलझ गया है मामला

लाइव सिटीज, पटना : नगर निगम के अपर नगर आयुक्त उदय कृष्ण लंबे वक्त से डिप्रेशन के शिकार थे. पटना पुलिस की मानें तो पिछले 6 महीने से उनके डिप्रेशन का इलाज चल रहा था. डा. गोपाल प्रसाद सिन्हा उदय कृष्ण का इलाज कर रहे थे. इस बात की पुष्टि पटना पुलिस की जांच में हुई है. असल में अपर नगर आयुक्त की फैमिली वालों ने पत्रकार नगर थाना में उनकी हत्या किए जाने का मामला दर्ज कराया था. फैमिली वालों का तर्क था कि उनकी हत्या कर लाश को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया होगा. ताकि मामले को सुसाइड का रूप दिया जा सके.

फैमिली के लगाए आरोपों के बाद पटना पुलिस ने पूरे मामले की जांच शुरू की. एसएसपी मनु महाराज की मानें तो दो बार पहले भी अपर नगर आयुक्त उदय कृष्ण रात के वक्त घर से बाहर निकल चुके हैं. लेकिन बेटे के कॉल करने के बाद वो वापस घर आ गए थे. लेकिन ऐसा इस बार नहीं हो सका था. हालांकि इस बार भी लास्ट टाइम रात के 8 बजे उनकी बात अपने बेटे से ही हुई थी.

आ गई है पटना के अपर नगर आयुक्त की पोस्टमार्टम रिपोर्ट, और उलझ गया है मामला

आ गया है पोस्टमार्टम रिपोर्ट

दूसरी ओर उदय कृष्ण की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आ गई है. रिपोर्ट में हत्या की बात से इनकार किया गया है. हालांकि पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने अपना फाइनल डिसिजन नहीं दिया है. पुलिस के अनुसार एफएसएल की रिपोर्ट देखने के बाद ही डॉक्टर अपना फाइनल ओपिनियन देंगे. जिसके लिए अभी थोड़ा इंतजार करना होगा. हालांकि अब भी कुछ प्वाइंट पर पुलिस की जांच चल रही है.

गौरतलब है कि मंगलवार 26 जून की रात उदय कृष्ण अपने घर से गुस्से में निकल गए थे. कुछ देर बाद से ही फैमिली वाले उनकी तलाश में जुट गए थे. जब वो नहीं मिले तो पत्रकार नगर थाने की पुलिस को सूचना दी गई. 27 जून की सुबह होते ही पूरे राजधानी में उस वक्त सनसनी फैल गई थी जब उनकी लाश को अगमकुआं के पास डाउन रेलवे ट्रैक से बरामद किया गया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*