एक बार फिर पटना में आ गया ‘PK’, पर इस बार आमिर खान नहीं हैं इसमें, हुआ पुतला दहन

लाइव सिटीज (राजेश ठाकुर) : आप अब तक फिल्म PK को भूले नहीं होंगे. सुपर स्टार आमिर खान की फिल्म PK. यह फिल्म सुपर-डुपर हिट हुई थी. लेकिन एक बार फिर पटना में ‘PK’ आ गया है. इसमें आमिर खान नहीं हैं. इसमें पॉलिटिक्स का ‘PK’ हैं. जी हां, पॉलिटिक्स का ‘PK’ मतलब प्रशांत किशोर.

मंगलवार को आम आम आदमी पार्टी की पटना कमिटी ने प्रशांत किशोर के खिलाफ शहर में मार्च निकाला और सीएम नीतीश कुमार का पुतला दहन किया. आप पार्टी की ओर से निकाले गये मार्च में जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर से संबंधित पोस्टर निकाला गया था.

आप भी पोस्टर में देख सकते हैं कि प्रशांत किशोर पर जमकर निशाना साधा गया है. पोस्टर में लिखा गया है कि PK की गुंडागर्दी नहीं चलेगी, नहीं चलेगी… इतना ही नहीं, उसी पोस्टर में एक कमेंट यह भी है कि ‘PUSU चुनाव में दलाली करते PK को VC कार्यालय में छात्रों ने पकड़ा…’

इस पोस्टर के साथ आप की पटना इकाई के लोगों ने शहर में मार्च निकाला तथा मंगलवार की दोपहर में कारगिल चौक पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन किया. कार्यकर्ताओं ने नीतीश कुमार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और प्रशांत किशोर के खिलाफ भी नारे लगाए.

चर्चा में है PK का यह पोस्टर

बहरहाल बता दें कि प्रशांत किशोर को लेकर बखेड़ा तब शुरू हुआ, जब सोमवार की शाम में वे पटना यूनिवर्सिटी के वीसी रास बिहारी सिंह से मिलने उनके घर पहुंच गए. दरअसल बुधवार को पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव की वोटिंग है. इसमें जदयू प्रत्याशी भी उम्मीदवार है. ऐसे में जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के वीसी से मिलने पर तमाम छात्र संगठनों ने हंगामा किया. साथ ही उनकी कार पर पथराव भी किया गया.

मामला यहीं नहीं रुका. प्रशांत किशोर के वीसी से मिलने के विरोध में भाजयुमो का एक प्रतिनिधि मंडल ने राज्यपाल लालजी टंडन से भी मुलाकात की. प्रतिनिधि मंडल में भाजपा विधायक व भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष नितिन नवीन समेत कई नेता थे. और अब मंगलवार को कुछ भाजपा नेता पटना के पीरबहोर में धरना भी दे रहे हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*