रोजगार के नाम पर सरकार से जनता को मिला सिर्फ जुमला : राजू दानवीर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : जन अधिकार पार्टी (लो) के नेता सह पप्पू ब्रिगेड के बिहार प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने आज डबल इंजन की सरकार पर जमकर हमला बोला. राजू दानवीर ने हिलसा विधान सभा क्षेत्र के बी पी एस स्कूल परिसर में आयोजित पार्टी के पदाधिकारियों की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आज देश व बिहार के युवा बेरोज़गारी से बदहाल  है. बिहार में नौकरी मांगने वाले युवओं की संख्या 12.32 लाख, जबकि उपलब्ध महज 3,776  ही है. आखिर क्यों नहीं प्रदेश की डबल इंजन वाली सरकार में युवाओं के लिए नौकरी के अवसर गत 15 सालों में पैदा कर पायी? क्योंकि रोजगार के नाम पर डबल इंजन वाली सरकार ने जनता को सिर्फ जुमला देने का काम किया.

राजू दानवीर ने कहा कि कोरोना काल में 25 मार्च से शुरू हुए लॉकडाउन की वजह से देश के लगभग 12.20 करोड़ लोगों को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है. मोदी सरकार ने तो हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था. वे बेरोजगार युवाओं से 2 करोड़ रोजगार प्रति वर्ष का वादा निभाएं, उनसे पकौड़े नहीं तलवाएं! उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के बाद भारी संख्या में युवाओं के बेरोजगार होने का सिलसिला जारी है. हिलसा विधान सभा में भी हमारे युवा साथी रोजगार की आस में हैं. लेकिन इस वक़्त उनके लिए रोजगार उपलब्ध करवाने की जगह जुमलेबाजी में माहिर मौजूदा सरकार उन्हें आत्मनिर्भर बनने का झांसा दे रही है. ऐसी सरकार से हम पूछना चाहते हैं कि क्या जुमलेबाजी से किसी को नौकरी मिलने वाली है. क्या बिना नौकरी, बिना रोजगार के बिहार के युवा आत्मनिर्भर बन पायंगे?



इससे पहले प्रखंड के पदाधिकारियों के साथ बैठक दौरान राजू दानवीर ने चुनावी चर्चा और रणनीति के अलावे  अब तक हुए कार्यों पर समीक्षा भी की. इस मौके पर उन्होंने आगामी विधान सभा चुनाव के मद्देनजर विभिन्न पदों पर कई पदाधिकारियों को मनोनीत भी किया. इस दौरान उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों में जोश भरते हुए कहा कि जन अधिकार पार्टी आज बिहार की जनता की पसंद है. हमारी कार्यशैली और सेवा भाव हमेशा एक समान और अडिग ही रहेगा और हम बिहार के बेहतरी के लिए बदलाव को समर्पित हैं. इसलिए आज जनता जन अधिकार पार्टी में अपने बेहतर भविष्य की उम्मीद देखती है, जिसे पूरा करने की जिम्मेदारी जाप के हर नेता व कार्यकर्ता का फर्ज है.