मुजफ्फरपुर में नदियों ने मचाई तबाही, 11 प्रखंडों के 125 पंचायत बाढ़ से प्रभावित

लाइव सिटीज, मुजफ्फरपुर/अभिषेक : उत्तर बिहार में नदियों ने तांडव मचाया हुआ है. लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. सिर्फ मुजफ्फरपुर जिले की बात करें तो यहां पर बागमती, बूढ़ी गंडक, लखनदेई समेत कई छोटी-बड़ी नदियां उफान पर है. इन नदियों ने कई इलाकों को डूबा दिया है. जिला प्रशासन के अनुसार जिले में अभी तक कुल 11 प्रखंडों के 125 पंचायत बाढ़ से प्रभावित हैं. जिनमें से 41 पूर्ण रूप से प्रभावित हैं और 84 आंशिक रूप से प्रभावित हैं, कुल 875 वार्ड बाढ़ से प्रभावित हैं.

जिला प्रशासन के अनुसार जिले में अभी तक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कुल 51 सामुदायिक किचेन का संचालन हो रहा है. 25 सरकारी नाव का परिचालन हो रहा है, जबकि 121 निजी नावों का परिचालन भी किया जा रहा है. जिले में कुल 18882 पॉलिथीन स्वीट्स का वितरण किया गया है.



जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह ने आज शाम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के प्रभावित प्रखंडों के अंचलाधिकारी और प्रखंड विकास पदाधिकारियों तथा वरीय प्रभारी पदाधिकारियों के साथ बाढ़ की स्थिति को लेकर समीक्षा की और इस संबंध में कई आवश्यक निर्देश दिए.

उन्होंने तटबंधों की स्थिति, पॉलिथीन सीट की उपलब्धता एवं वितरण, नावों का परिचालन, सामुदायिक रसोई घर, संबंधित प्रखंड में प्रभावित पंचायतों और वार्डों की संख्या इत्यादि के संबंध में जानकारी प्राप्त की. साथ ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया.

उन्होंने बीडिओ एवं सीओ को निर्देशित किया कि तटबंधों का लगातार निरीक्षण करें. डीएम ने कहा कि सभी पदाधिकारी और कर्मी अलर्ट मोड में कार्य करें. कोरोना के साथ-साथ बाढ़ रुपी आपदा जैसी दोहरी चुनौतियों का सामना पूरी तन्मयता एवं आत्मविश्वास के साथ करें.