मानव श्रृंखला खत्म होते ही राजद का वार, कहा – नीतीश अब तक के सबसे महंगे मुख्यमंत्री

लाइव सिटीज, पटना : बिहार में आज रविवार को बनायी गई मानव श्रृंखला को लेकर राजद का विरोध जारी है. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी मानव श्रृंखला को लेकर लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर हैं. तिवारी ने आज मानव श्रृंखला कार्यक्रम के समापन के बाद बिहार सरकार और मुख्यमंत्री पर एक बार फिर हमला बोला है. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अब तक सबसे महंगा मुख्यमंत्री बताया है. राजद के वरिष्ठ नेता ने नीतीश कुमार से मानव श्रृंखला पर श्वेत पत्र जारी करने की भी मांग कर दी है.

राजद उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने मानव श्रृंखला को लेकर आज कहा है कि ये सब नीतीश कुमार का ढकोसला है. अगर उनमें हिम्मत है तो इसपर श्वेत पत्र जारी करें. मालूम हो कि राजद ने पहले ही मानव श्रृंखला में शामिल होने से इंकार कर दिया था. राजद ने इसे अपराध श्रृंखला का नाम दिया था.

इससे पहले आज रविवार को राजधानी के गांधी मैदान में मुख्य कार्यक्रम में मानव श्रृंखला से बिहार का नक्शा बनाया गया. यहां स्कूली बच्चों, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सेविका से लेकर आला अधिकारियों और मंत्रियों और मुख्यमंत्री तक शामिल हुए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 12 बजे आकाश में रंग-बिरंगे गुब्बारा उड़ा कर बाल विवाह और दहेज प्रथा के खिलाफ संदेश दिया.

देखें VIDEO : महिलाओं और बच्चों ने गाना गाकर और डांस कर किया जागरूक

मानव श्रृंखला के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में तेजी से विकास कार्यों के साथ ही सामाजिक सुधार के काम करते रहेंगे. सामाजिक कुरीतियों को मिटाने के लिए लोग मानव श्रृंखला बना रहे हैं. पिछले साल शराबबंदी के समर्थन में मानव श्रृंखला बनायी गयी थी. वैसे तो दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ पहले से ही कानून हैं, लेकिन इस कुप्रथा को दूर करने के लिए लोगों को आगे आना होगा. सामाजिक जागरूकता से ही ऐसी कुप्रथा को हम पूरी तरह मिटा सकते हैं. सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ बिहार ने नया इतिहास रचा है. आगे भी सामाजिक सुधार के काम जारी रहेंगे.

देखें मानव श्रृंखला की 10 शानदार तस्वीरें…

मानव श्रृंखला में पहुंचे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, कहा-समाज से खत्म हो दहेज व बाल विवाह
मानव श्रृंखला की कुछ झलकियां : आपका दिल खुश कर देंगी गांधी मैदान की ये तस्वीरें

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*