रोजगार और नौकरी में फर्क होता है, बीजेपी के हिसाब से तो पकौड़ा तलना भी रोजगार है- तेजस्वी यादव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बेजेपी ने घोषणा पत्र जारी कर दिया. लेकिन पार्टी अपने ही मेनिफेस्टो पर बैकफुट पर जाती दिख रही है. पार्टी ने जब से 19 लाख लोगों को रोजगार देने की बात की है, तब से विपक्ष करारा हमला बोल रहा है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने बीजेपी के मेनिफेस्टो पर बड़ा हमला बोला है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी बिहार वासियों को क्या देगी, ये सबको पता है. उन्होंने कहा कि इससे पहले भी भारतीय जनता पार्टी ने 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने की बात की थी. लेकिन वो नारा अब हवा में चला गया है. उन्होंने कहा कि हमने पहले ही कहा है हमारी सरकार बनते ही कैबिनेट की पहली बैठक में 10 लाख युवाओं को नौकरी दी जाएगी. तेजस्वी ने कहा कि नौकरी और रोजगार में बहुत बड़ा अंतर होता है.



आरजेडी नेता ने कहा कि बीजेपी के हिसाब से पकौड़े तलना भी रोजगार ही है. बीजेपी कोशिश करेगी. लेकिन अभी भी कहते हैं कि हमारी पहली कलम से 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी ही दी जाएगी. तेजस्वी यादव ने कहा कि इसी बीजेपी ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की कही थी और विशेष पैकेज देने का भी ऐलान किया था. लेकिन आज पार्टी की ओर से किए गए वादें कहां गए? मालूम हो कि बिहार में बिहार में विधानसभा का चुनाव होने वाला है. ऐसे में सभी नेताओं के बीच बयानबाजी तेज हो गई है.