हसनपुर में गरजे तेजस्वी यादव, कहा- अब तो नीतीश कुमार गाली भी देते हैं तो आशीर्वाद लगता है

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा का चुनाव होना है. पहले चरण के चुनाव के लिए आज प्रचार का आखिरी दिन है. इसको लेकर आरजेडी पूरे दम खम के साथ लगी है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने बड़े भाई और हसनपुर से प्रत्याशी तेजप्रताप यादव के लिए प्रचार करने समस्तीपुर पहुंचे. तेजस्वी यादव के साथ तेजप्रताप यादव सहित आरजेडी के कई बड़े नेता मौजूद रहे. साथ ही इस दौरान आरजेडी के भारी समर्थक पहुंचे.

तेजस्वी यादव ने हसनपुर में खूब हुंकार भरा. उन्होंने कहा कि 15 साल से नीतीश कुमार बिहार की कुर्सी संभाल रहे हैं. लेकिन राज्य में बेरोजगारी का दर क्या है ये सबको पता है. उन्होंने कहा कि देश में अगर कहीं सबसे ज्यादा बेरोजगारी है, वो बिहार में ही है. तेजस्वी यादव ने कहा कि हसनपुर से तेजप्रताप यादव उम्मीदवार हैं. उन्हें जीताइए और क्षेत्र का विकास कीजिए. इसको ऐसे समझिए कि हसनपुर से तेजप्रताप यादव चुनाव नहीं लालू यादव जी चुनाव लड़ रहे हैं.



आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार ने 15 साल राज करके बिहार की जनता को ठगा है. उन्होंने कहा कि न तो यहां की बेरोजगारी दूर की और ना ही शिक्षा व्यवस्था में कोई सुधार किया. तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार जी ने बिहार से पलायन दूर नहीं किया. अक भी कल कारखाने नहीं लगाएं, उद्योग का बात तो भूल ही जाइए. उन्होंने कहा कि मंहगाई आज कितनी हो गई है, ये सबके सामने है. प्याज आज 80 रुपये किलो बिक रहा है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि शिक्षा और अस्पताल दोनों की आज हालत खराब है. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई कोई नीतीश कुमार और तेजस्वी के बीच नहीं है और ना ही लालू यादव और नरेंद्र मोदी के बीच की है. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई तानाशाही सरकार और गरीब जनता की सरकार की है. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई सरकार और जनता के बीच की है और मुझे विश्वास भी है कि इस लड़ाई में जनता की जीत सुनिश्चित है. उन्होंने जनता से कहा कि आप दतवन के चक्कर में वृक्ष ही नहीं उखाड़ दीजिएगा. वृक्ष अगर रहेगा तो दतवन बहुत मिलेंगे.

तेजस्वी यादव ने कहा कि हम युवा हैं. हम विकास, अस्पताल, स्कूल और सड़क आदि के मुद्दों पर बात करते हैं. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी तो हमसे बड़े हैं और वो हमारे लिए रे, तू का प्रयोग करने लगे. उन्होंने कहा कि अब तो वो गाली भी देते हैं तो मुझे आशीर्वाद लगता है.