आरजेडी प्रवक्ता मृतुन्जय तिवारी का बयान, कोरोना से हुई मौत के आंकड़े छुपा रही सरकार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कोरोना महामारी से हो रही मौतों के आंकड़ों का मामला कई प्रदेशों में चौंकाने वाला है. गुजरात, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के बाद अब बिहार में भी ऐसा मामला सामने आया है, जहां सरकारी आंकड़ों से कई गुना अधिक लोगों की मौत हुई है. जिसको लेकर विपक्ष ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा है। आरजेडी प्रवक्ता मृतुन्जय तिवारी ने कहा कि बिहार में कोरोना से हुई मौत के आंकड़े सरकार छुपा रही है। जिसतरह से कोरोना से हुई मौत के आंकड़े का घोटाला सामने आया है, जिसके बाद बिहार में डबल इंजन की उजागर हो गई है। कोरोना जांच का घोटाला सामने आया था, अब कोरोना से मौत की आंकड़े में घोटाला सामने आने लगी है। करीब चार हज़ार मौत के आंकड़े को सरकार ने छुपाया है।

मृतुन्जय तिवारी ने कहा कि कोरोना से मौत के आंकड़े में 73 फीसदी अंतर है। हाइकोर्ट द्वारा इस मामले में जांच के आदेश के बाद सरकार एक्सपोज हो गई है। जहां ग्रामीणों इलाकों में कोरोना से मौत हुई है, वहां पर कोरोना टेस्ट ही नहीं कराया गया है।

आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना के मात्र 589 नये केस मिले हैं। इसके साथ ही कुल एक्टिव केसों की संख्या घटकर 7353 तक पहुंच गया है। आज भी राजधानी पटना दूसरे नंबर पर रहा। पहले पायदान पर सुपौल आज भी बरकरार है। यहां सबसे ज्यादा नये संक्रमित 57 मरीज मिले हैं। जबकि पटना में 55 मरीज ही मिले हैं।