सीएम नीतीश को नहीं है जानकारी, पिता से बात करने को मैं महीनों से तरसता रहा हूं : तेजप्रताप

तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सीएम नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर आरोप लगाते हुए कहा है कि जेल में रहने के बावजूद लालू यादव सियासत कर रहे हैं और लोगों से फोन पर बात कर रहे हैं. इस आरोप का राजद सुप्रीमो के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने खंडन किया है. नीतीश के इन आरोपों पर तेजप्रताप ने कहा कि पिता से बात करने को मैं महीनों से तरसता रहा हूं. नीतीश कुमार अपनी संभावित हार से हताश हैं. मैं नीतीश कुमार के ऐसे आरोपों का खंडन करता हूं.

तेजप्रताप यादव ने मंगलवार को एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा, “मेरे पिता जेल में नियमों का पालन करते हैं. मैं खुद मोबाइल बाहर छोड़कर जेल में मिलने जाता हूं. वहां मेरी भी तलाशी होती है. सीएम बिना किसी जानकारी के जेल प्रशासन पर सवाल उठा रहे है. नीतीश जी सीएम हैं और उन्हें बिना जानकारी के ऐसे बयान नहीं देना चाहिए.



बता दें कि सीएम नीतीश ने लालू यादव पर तंज कसते हुए कहा है कि लालू यादव जेल से सियासत कर रहे हैं. सीएम नीतीश ने आगे कहा कि सबको पता है लालू जेल से बात करते हैं. जेल के नियमों की लालू अनदेखी करते हैं.

ये भी पढ़ें : तेजप्रताप ने पार्टी पर हमला बोलते हुए अचानक छोटे भाई तेजस्वी के बारे में कह दी ये बड़ी बात

ये भी पढ़ें : तेजप्रताप के गुस्से से महागठबंधन में हड़कंप, कादरी ने मसले को सुलझाने की दी सलाह

तेजप्रताप इन दिनों सुर्खियों में हैं. उन्होंने अपने पार्टी पर रोज नया-नया बयान दे रहे हैं. जो कि पार्टी के लिए सिरदर्द बना हुआ है. दरअसल, तेजप्रताप यादव ने मां राबड़ी देवी से सारण लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने का आग्रह करने के साथ चेतावनी दी है कि सारण की सीट हमारे परिवार की पुश्तैनी सीट है. अगर वहां से राबड़ी देवी चुनाव नहीं लड़ती हैं, तो वह निर्दलीय चुनावी मैदान में उतरेंगे. मालूम हो कि राजद ने सारण सीट से तेजप्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय को प्रत्याशी बनाया है.