उपेंद्र कुशवाहा ने कही बड़ी बात- NDA में कुछ लोग मोदी को पीएम के रूप में नहीं देखना चाहते

बीपी मंडल, बिहार, नीतीश कुमार, तेजस्वी यादव, खीर, उपेंद्र कुशवाहा, आरएलएसपी, Upendra Kushwaha, kushwaha kheer statement, Bihar

लाइव सिटीज डेस्क : एनडीए में सीट शेयरिंग के मुद्दे के बीच राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने आज प्रेस कांफ्रेंस करके एक बड़ी बात कह दी है. उनके इस बयान से बिहार की सियासत में बड़ा तूफान खड़ा हो सकता है. आज मीडिया से मुखातिब हुए उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए में सीट शेयरिंग के मुद्दे पर तो कुछ नहीं बोले. लेकिन एनडीए और प्रधानमंत्री को लेकर बड़ा खुलासा किया. उन्होंने कहा कि एनडीए में ही कुछ ऐसे लोग हैं जो मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में नहीं देखना चाहते. हालांकि उनसे जब यह पूछा गया कि वह कौन लोग हैं, तो उन्होंने नाम बताने से इंकार कर दिया और कहा कि वक़्त आने पर पता चल जायेगा.

‘खीर पॉलिटिक्स’ के लेकर चर्चा

बता दें कि आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने पटना में आज एक प्रेस कांफ्रेंस की. उन्होंने इस कांफ्रेंस में अपने खीर वाले बयान पर फिर सफाई दी. साथ ही उन्होंने आरक्षण के मुद्दे पर भी बात की. महागठबंधन में जाने को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि हम पीएम मोदी को खीर खिलाने वाले हैं. उन्होंने 2019 में दोबारा देश का प्रधानमंत्री बनाना है. बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा इन दिनों ‘खीर पॉलिटिक्स’ के लेकर चर्चा में हैं.

अगला कार्यक्रम पैगाम-ए-खीर का

पटना में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि आरएलएसपी की ओर से आयोजित दलित, पिछड़ा और अतिपिछड़ा समेलन की कल (शनिवार से) शुरूआत होगी. उन्होंने कहा कि समाज के इस वर्ग के प्रतिनिधित्व को आगे बढ़ाना चाहते हैं. साथी उन्होंने कहा कि आरएलएसपी का अगला कार्यक्रम पैगाम-ए-खीर का है, जो 25 सितंबर से पटना में शुरू होगा. सीटों को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि कोई चर्चा नहीं हुई है और कोई विवाद भी नहीं है.

कैसे बनेगा पैगाम-ए-खीर

अपने पिछले बयान को स्पष्ट करते हुए और  पैगाम-ए-खीर के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि यदुवंशी का मतलब कृष्णवंशी होता है और कुशवंशी राम वंशी होते हैं. यही राम वंशी और कृष्ण वंशी मिलकर खीर बनायेंगे जिसमें अतिपिछड़ों का पंचमेवा, दलितों के घर से पवित्र तुलसी पत्ता और मुस्लिम के घर से दस्तरखान शामिल रहेगा.

यह भी पढ़ें : ‘दो नाव की सवारी अच्छी नहीं, महागठबंधन में शामिल होना है तो जल्द फैसला करें कुशवाहा’

उपेंद्र कुशवाहा : मलाई भी खा रहे हैं, खीर भी पका रहे हैं, मोदी को औकात बता रहे हैं

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*