पटना में बदले गए लॉकडाउन के नियम, अब सुबह 6 से 10 बजे तक ही खुलेगें फल और सब्जी की दुकानें

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: राज्य में फल और सब्जी बेचने वालों के बीच कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है. इसे देखते हुए राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है. पटना जिले में फल, सब्जी, मंडी व मांस-मछली की दुकानें शाम में नहीं खुलेंगी. ये दुकानें अब सुबह छह से दस बजे तक ही खोली जा सकती हैं. शाम को इन दुकानों को खुलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

दुकानों पर लग रही भीड़ व कोरोना के फैलाव के खतरे को लेकर नया नियम बनाया गया है. हालांकि आवश्यक सामग्री की दुकानें सुबह 6 बजे से लेकर रात 10 बजे तक खुली रह सकती हैं. किराना के साथ-साथ दवा और दूध की दुकान को सुबह 6 बजे से लेकर रात 10 बजे तक खोलने की इजाजत होगी. जिन इलाकों में दवा की दुकानें 24 घंटे खुलती है वहां भी इस पर रोक नहीं रहेगी. इसके अलावा अन्य दुकानों को सुबह 10 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक खोलने की इजाजत होगी. सभी तरह की दुकानों को खोलने के लिए यह समय सीमा पहले से तय की गई है.



यह नियम छह सितंबर तक प्रभावी रहेगा. विदित हो कि अभी तक फल-सब्जी, मांस-मछली की दुकानें व मंडी को सुबह के साथ ही अपराह्न तीन से शाम सात बजे तक खोलने की इजाजत दी गयी थी. इन नये नियम का पालन कराने व निगरानी रखने की जिम्मेदारी मजिस्ट्रेट व स्थानीय पुलिस को दी गयी है. उन्हें निर्देश दिया गया है कि फल, सब्जी, मांस-मछली की दुकानों को शाम में खुलने नहीं दिया जाये. अगर इस तरह की दुकानों को कोई खोलता है, तो उस पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.

दरअसल राज्य में फल और सब्जी बेचने वालों के बीच कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक राज्य में लगभग 3 फ़ीसदी संक्रमित इसी क्षेत्र से पाए गए हैं हालांकि अब तक सब्जी और फल बेचने वालों की टेस्टिंग व्यापक पैमाने पर नहीं हो सकी है. लेकिन इस ट्रेंड को देखते हुए राज्य सरकार ने सब्जी फल मीट मछली की दुकानों को खोलने का समय बदल दिया है.