सरस्वती पूजा : गंगा के किनारे 22 प्रमुख घाटों पर मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल तैनात, आज शाम तक सभी मूर्तियों करना है विसर्जित

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बुधवार को प्रशासन के निर्देशानुसार सरस्वती पूजा की मूर्ति विसर्जित कर दी जायेगी. जिला प्रशासन ने गंगा के किनारे प्रमुख घाटों पर 22 मजिस्ट्रेट एवं पुलिस बल को तैनात किया है. हर हाल में बुधवार की शाम तक मूर्ति विसर्जित करने का पूजा समितियों को निर्देश दिया गया है. दीघा घाट, बांस घाट, भद्र घाट, लॉ कॉलेज घाट में मूर्ति विसर्जित की जायेगी. वहीं, लॉ कॉलेज घाट, बांस घाट, भद्र घाट, दीघा पाटी पुल घाट, खजेकलां घाट, पत्थर घाट, मंगल तालाब घाट, दमराही घाट, पुनपुन घाट पर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है. अधिकारियों ने बताया कि गंगा में मूर्ति विसर्जन पर रोक है. समितियों की सुविधा के लिए कृत्रिम तालाब बनाये गये हैं. समिति के लोग यहां विसर्जन कर सकते हैं. रात में इसे किया जाना है.

विसर्जन को लेकर किये गये हैं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

सरस्वती पूजा काे शांतिपूर्ण कराने को लेकर मंगलवार को जिला नियंत्रण कक्ष से कई मजिस्ट्रेट ने बीएन कॉलेज, पटना कॉलेज, एएन कॉलेज आदि का निरीक्षण भी किया. मूर्ति विसर्जन को लेकर पटना में सुरक्षा के पूरे इंतजाम हैं. कई जगहों पर पुलिस ने फ्लैग मार्च भी किया. गांधी, मैदान, पीरबहोर, कदमकुआं सहित अन्य इलाकों में भारी संख्या में पुलिस टीम ने गश्ती भी की. वहीं, पटेल हॉस्टल के मूर्ति विसर्जन को लेकर अब तक कोई जानकारी नहीं है. आपको बता दें कि पुलिस वैसी जगहों पर अलर्ट रहेगी जहां अधिक संख्या में मूर्ति विसर्जन होता है. ऐसे घाटों पर सुबह से ही जवानों की ड्यूटी लगा दी गयी है. सभी डीएसपी और थानेदार भी अलर्ट हैं. मूर्ति विसर्जन के दौरान अगर किसी ने कानून तोड़ा तो उसपर केस दर्ज की जायेगी.