स्पीडी ट्रायल के तहत महज 18 दिनों मे ही मिल गई बांका के 6 कुख्यात डकैतों को सजा

CHANDAN-KUSHWAHA
बांका एसपी चंदन कुशवाहा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : 18 दिनों में 12 ट्रायल हुए और फिर कोर्ट ने पुलिस के द्वारा पकड़े गए 6 कुख्यात डकैतों को सजा दे दी. पूरा केस स्पीडी ट्रायल के तहत चला. ये मामला बांका जिले का है. कुख्यात अपराधी मनोज दास उर्फ विस्पत दास, इसके साथी संतोष कुमार वर्णवाल, सोनू कुमार वर्णवाल, निजामुल उर्फ नजबुल अंसारी उर्फ टाइगर, मुकेश कुमार और लालू कुमार यादव को कोर्ट ने 10—10 साल कैद की सजा सुनाई है. साथ ही इन सभी को 50—50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है.

इन अपराधियों के खिलाफ सुनवाई करते हुए बांका के एडीजे—1 राम लाल शर्मा ने अपना फैसला सुनाया है. 3 जनवरी को स्पीडी ट्रायल के तहत अपराधियों का मामला एडीजे—1 के कोर्ट में शुरू हुआ था. लगातार 12 दिनों तक कोर्ट में सुनवाई चली. अभियोजन की तरफ से एपीपी राजकिशोर प्रसाद सिंह ने अपना पक्ष रखा. जबकि विपक्ष की ओर से एडवोकेट राम किशोर यादव, अर्जुन ठाकुर और राजेन्द्र पंडित ने अपना—अपना पक्ष रखा व पूरे मामले में बहस की.

कम समय में 6 कुख्यात अपराधियों को सख्त सजा दिलवा देना, ये बांका पुलिस के लिए एक बड़ी उपलब्धि है. पिछले साल 4 सितंबर को इन्हीं अपराधियों ने देवघर में बैंक डकैती की वारदात को अंजाम दिया था. इसी वारदात के बाद 8 सितंबर को बांका के कटोरिया थाना इलाके में एक जगह जमा होकर ये अपराधी देवघर के एक बिजनेसमैन को लूटने की प्लानिंग सेट कर रहे थे.

बांका में दो शराब तस्करों को कोर्ट ने दी 10 साल की सजा, स्पीडी ट्रायल के तहत हुई कार्रवाई
शराबबंदी पर कोर्ट की दूसरी मुहर, यह सफलता भी बांका SP चंदन कुशवाहा के नाम

इनके एक जगह पर जमा होने की गुप्त सूचना बांका के एसपी चंदन कुशवाहा को मिली थी. जिसके बाद ही उनके आदेश पर पुलिस टीम ने छापेमारी की और सभी अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया. इनके पास से लूट का कैश और हथियार भी बरामद किया गया था.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*