बिहार में आंधी तूफान से जान-माल का भारी नुकसान, CM ने किया मुआवजे का एलान

cm नीतीश कुमार , Weather alert , rainfall , dust storm , Delhi ncr weather , weather in UP , North India , HPCommonManIssues , दिल्ली-एनसीआर मौसम , मौसम का कहर, आंधी-तूफान, तूफान चेतावनी, बिहार, पटना

लाइव सिटीज डेस्क : रविवार की देर रात बिहार के कई हिस्सों में आंधी-तूफान और बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ. इस आंधी तूफान में जान-माल दोनों का नुकसान हुआ है. आंधी-तूफान से फसलों को भारी नुकसान हुआ. खासकर आम,लीची और केले की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आंधी-तूफान से राज्य में चार लोगों की हुई मौत पर गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को अविलंब मुआवजा देने का निर्देश दिया है.

अचानक बदला मौसम

बता दें कि रविवार रात अचानक आए आंधी-तूफान से फसलों को भारी नुकसान हुआ. खासकर आम, लीची और केले की फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है. इस दौरान सड़क यातायात प्रभावित हुआ. आंधी-बारिश की चपेट में आकर चार लोगों की मौत की भी सूचना मिली है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में आंधी-तूफान के साथ ओलावृष्टि की चेतावनी दी है. कई जिलों में 14 और 15 मई को आंधी के साथ ही ओलावृष्टि की चेतावनी दी गई है.

कई जिले हुए प्रभावित

पटना के दीघा थानाक्षेत्र में तेज आंधी-बारिश के कारण दीवार गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई वहीं तीन लोग घायल हो गए हैं. छपरा जिले में भी देर रात आए आंधी-तूफान के कारण जान-माल के नुकसान की खबर है. जिले के सदर इलाके में पेड़ गिरने से उसके नीचे दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गई है और तीन लोग घायल हो गए हैं. मुजफ्फरपुर जिले के पारु थाना इलाके में देर रात आई आंधी और तूफान से एक घर की दीवार गिर गई जिसके नीचे दबकर एक बुजुर्ग की मौत हो गई, वहीं पेड़ गिरने से एक युवक की भी मौत उसके नीचे दबने से हो गई है.

किशनगंज में सोमवार की सुबह 5 बजे से तेज हवा के साथ लगातार बारिश हो रही है. बारिश से मक्के की फसल को नुकसान पहुंचा है. ग्रामीण इलाकों में बिजली आपूर्ति बाधित है. जान-माल की क्षति का अभी तक कोई सूचना नहीं है. कटिहार में भी सोमवार की सुबह से ही आसमान में घने बादल छाए हैं और रह-रह कर तेज हवा चल रही है. बीती रात यहां बारिश भी हुई है.

वैशाली जिले में आंधी-तूफान के कारण कई एकड़ में लगे केले की फसल बर्बाद हो गई है. किसानों के बीच मायूसी छायी है. वहीं गांधी सेतु में बैरिकेटिंग गिरने की वजह से यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है. सेतु पर वाहनों की लंबी कतार लगी रही. बड़ी मुश्किल से जाम को हटाने का प्रयास किया गया. अंधड़ के कारण सोनपुर जेपी पुल पर ट्रक और कार के बीच टक्कर के कारण जाम लग गया, जिससे सैकड़ों गाड़ियां फंस गई और यात्री हलकान रहे.

पटना में देर रात एक बजे मौसम के मिजाज में अचानक परिवर्तन हो गया. तेज आंधी चलने लगी. साथ ही बूंदाबांदी हुई. लगभग 60 किमी प्रति घंटे की रप्तार से चली आंधी से राजधानी एवं आसपास के कई इलाकों की बिजली गुल हो गई. शहर में लगे कई होर्डिंग उखड़ गए. मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली और उत्तर बिहार में हुए मौसम के परिवर्तन के वजह से ऐसा हुआ है. इसका असर पटना से दिल्ली जाने वाले विमानों पर भी पड़ा.

यह भी पढ़ें : बिहार में आंधी-तूफान ने मचाया कोहराम, देश भर में मौसम के कहर से 6 राज्यों में 48 की मौत

मौसम ने रविवार को देश के उत्तर से लेकर दक्षिणी और पूर्व से लेकर पश्चिमी हिस्सों में भारी तबाही मचाई. उत्तर भारत में खराब मौसम का असर बिहार के कई हिस्सों में पड़ा है. 24 घंटे के दौरान आंधी-तूफान और बारिश की वजह से हुए हादसों में दिल्ली, हिमाचल, उतराखंड, हरियाणा, पंजाब और यूपी में 65 लोग के मरने की सूचना है. 50 से ज्यादा लोग घायल भी हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*