PU इलेक्शन : पढ़ाई में आगे और क्लास न छोड़ने वाले स्टूडेंट्स को खोज रहे हैं तेजप्रताप

Unnao Gangrape case , Supreme Court , BJP MLA Kuldeep Singh Sengar , उन्‍नाव गैंगरेप मामला , HPCommonManIssues, bjp-mla-surendra-singh, yogi adityanath, up, unnao, बिहार, राजद, RJD,तेज प्रताप यादव, tej pratap yadav, PM Narendra Modi, PM Modi, BJP Fast, parliament, amit shah, रविशंकर प्रसाद, गिरिराज सिंह, पीएम मोदी, उपवास
तेज प्रताप यादव (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, पटना : बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने साफ़ कर दिया है छात्र राजद आने वाले स्टूडेंट यूनियन इलेक्शन में किसी भी दागी छवि के उम्मीदवार को टिकट नहीं देगा. उन्होंने कहा है कि इन चुनावों में टिकट उन्हीं लोगों को मिलेगा, जिनपर कोई केस दर्ज न हो. तेजप्रताप यादव ने यह भी कहा है कि छात्र राजद सभी सीटों पर पार्टी का उम्मीदवार उतारेगी. आज रविवार को एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए तेजप्रताप ने कहा कि छात्रसंघ चुनाव आगे की राजनीति की दिशा तय करती है.

तेजप्रताप ने कहा कि हम अभी सभी यूनिवर्सिटीज में ऐसे लड़कों को तलाश रहे हैं, जो पढ़ाई में आगे हैं. ऐसे लड़के जो ज्यादा से ज्यादा अपनी क्लास अटेंड करते हैं, उनकी भी जानकारी ली जा रही है. अभी हमने एक मीटिंग भी किया है, जिसमें अपने संगठन के लड़कों को स्टूडेंट यूनियन इलेक्शन के बारे में बताया गया है. यादव ने इस दौरान कहा कि यह चुनाव सिर्फ़ कॉलेज स्तर पर ही नहीं हो रहा है, बल्कि यह एक बड़ा चुनाव हो जाएगा. यह बिहार की आगे की राजनीति भी तय करेगा. आगे देखें वीडियो, तेज प्रताप देना चाहते हैं लालू को गिफ्ट !

मालूम हो कि बिहार में अगले माह तक सभी यूनिवर्सिटीज में स्टूडेंट यूनियन इलेक्शन होने हैं. हालांकि पटना यूनिवर्सिटी इलेक्शन पर सबकी नजर होगी. यूनिवर्सिटी का छात्रसंघ चुनाव व्यक्तिगत स्तर पर होना है. यानी प्रत्यक्ष रूप से पार्टी आधारित चुनाव नहीं होंगे. लेकिन वास्तविक स्थिति यह है कि इस चुनाव में पार्टी के आधार पर ही वोट पड़ना तय है. अबतक छात्रसंघ चुनाव में किसी पद पर किसी छात्र ने दावेदारी सार्वजनिक नहीं की है. लेकिन प्रचार की प्रक्रिया जारी है. छात्र नेताओं की घोषणा पार्टियां बाद में करेंगी, लेकिन माहौल बनाने की शुरुआत अभी से ही हो गई है.

राजभवन से जारी हुआ है आदेश

बता दें कि कानून की नजर में दोषी छात्र चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. कॉलेज स्तर के उम्मीदवार दो हजार और विश्वविद्यालय स्तर के उम्मीदवार पांच हजार रुपये से अधिक खर्च नहीं कर सकेंगे. एक सप्ताह के अंदर खर्च का ऑडिट करा उसे जमा करना होगा. चुनाव के दौरान जातीय या सांप्रदायिक हिंसा फैलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जा जाएगी. चुनाव में वे छात्र भाग नहीं ले सकते जिनपर चार्जशीट दायर है या कोर्ट ने उन्हें दोषी साबित कर दिया है. इस आशय का आदेश 27 जनवरी को राजभवन की ओर से जारी कर दिया गया है.

PU में 17 फरवरी को मतदान

पटना विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव के लिए 17 फरवरी को मतदान होगा. इसी दिन शाम में रिजल्ट की घोषणा कर दी जाएगी. सात या आठ फरवरी को इच्छुक छात्र नामांकन करेंगे. विश्वविद्यालय सूत्रों की मानें तो चुनाव प्रक्रिया 27 जनवरी को प्रारंभ होगी. पीयू में कुल 6 सीटों के लिए छात्र संघ चुनाव कराया जा रहा है. जिसमें 5 पद सेंट्रल पैनल के लिए हैं जबकि 1 पद कॉलेज रिप्रजेंटेटिव के लिए है.

देखें Video : तेज प्रताप यादव का देसी अंदाज…

About Anjani Pandey 639 Articles
I write on Politics, Crime and everything else.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*