लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : अज्ञातवास से लौटने के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव राजनीति में एक्टिव हो गए हैं. तेजस्वी यादव ने आज पार्टी के सदस्यता अभियान की समीक्षा बैठक की. बैठक के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी ने RCP सिंह और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि अब ये साबित हो गया है कि RCP सिंह पैसे लेकर नेताओं को MLC का पद बांट रहे हैं. नीतीश जवाब दें कि भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की उनकी नीति कहां चली गयी.

उन्होंने कहा कि RCP टैक्स का उनका आरोप सही साबित हो गया है. दिल्ली में आरसीपी सिंह को जदयू के एक विधान पार्षद ने अपनी गाड़ी दे रखी है. इस गाड़ी से आरसीपी सिंह ही नहीं बल्कि उनकी बेटी लिपि सिंह भी घूम रही हैं. इससे साफ हो गया कि विधान पार्षद ने टैक्स देकर MLC का पद मिला. तेजस्वी ने कहा कि आरसीपी सिंह की बेनामी संपत्ति का मामला खुल रहा है.

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इस मामले में सीएम को जवाब देना चाहिए. क्या भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की उनकी नीति सिर्फ लालू परिवार के लिए है क्या. क्या भ्रष्टाचार के लिए सिर्फ लालू परिवार को दोषी करार देकर कार्रवाई की जाएगी. नीतीश बताए कि आरसीपी सिंह पर वे कब कार्रवाई कर रहे हैं.

तेजस्वी ने कहा कि आरसीपी सिंह और लिपि सिंह के मामले में डिप्टी सीएम सुशील मोदी को भी प्रेस कांफ्रेंस करनी चाहिये. सुशील मोदी आज क्यों खामोश हैं.

ये भी पढ़ें : राजद अध्यक्ष बनने पर तेजस्वी का बयान, लालू जी के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ेगी पार्टी

ये भी पढ़ें : अनंत सिंह को पटना लेकर पहुंची बिहार पुलिस, एयरपोर्ट पर जबरदस्त सुरक्षा व्यवस्था