बोले तेजस्वी यादव – युवाओं की बेरोजगारी पर जवाब दें पीएम-सीएम, रिक्तियां है लेकिन कोई नियुक्तियां नहीं

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : लोकसभा चुनाव से पहले बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव फॉर्म में आ गए हैं. वे लगातार बिहार सरकार और केंद्र सरकार पर हमला कर रहे हैं. इसी दौरान तेजस्वी यादव ने प्रेस रिलीज जारी कर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार यह वादा करते हुए सत्ता में आई थी कि वह हर वर्ष युवाओं के लिए 2 करोड़ नौकरी अर्थात् पाँच वर्षों में 10 करोड़ नौकरियाँ प्रदान करेगी. किंतु उसके एक छोटे अंश को भी पूरा करने में वह पूरी तरह से नाकाम रही है.

वहीं उन्होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर वार करते हुए कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री रोज़गार सृजन में ज़ीरो है, बल्कि सृजन के नाम पर उन्होंने तीन हज़ार करोड़ का सृजन घोटाला कर दिया. नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी की विफलता के चलते युवाओं में भारी आक्रोश है. युवाओं के लिए रोजगार सृजन ना होने के कारण देश में असंतोष और अराजकता का माहौल है. सभी विभागों में लाखों रिक्तियाँ है लेकिन कोई नियुक्तियाँ नहीं है.

चार पुलिस अधिकारी और नौ होमगार्ड जवान पर गिरी गाज, DIG मनु महराज ने किया सस्पेंड

RLSP को नागमणि का बाय-बाय, पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा

तेजस्वी ने आगे कहा कि बेरोजगारी के कारण युवा मॉब लिंचिंग, साम्प्रदायिकता, अपराध और दूसरे तरह के अनुपयोगी व असामाजिक कार्यों में लिप्त हो रहे हैं. एनएसएसओ के रिपोर्ट को सरकार ने जानबूझकर दबाया जिसके खुलासे से देश को यह जानकारी मिली कि पिछले 45 सालों में आज देश में रोजगार की सबसे भयावह स्थिति है. एक अन्य रिपोर्ट अर्थात CMIE के अनुसार असंगठित क्षेत्र से पिछले एक साल में ही कुल 1 करोड़ 10 लाख के लगभग नौकरियां लोगों से छीन गई हैं.

नेता प्रतिपक्ष ने नोटबंदी को बेरोजगारी का ज़िम्मेदार ठहराते हुए कहा, नोटबंदी के कारण असंगठित क्षेत्र और संगठित क्षेत्र दोनों पर भारी दबाव बना और कई लोगों ने अपनी रोज़गार व बेहतर आर्थिक स्थिति गंवा दी जिससे आज तक वे लोग और देश उबर नहीं पाया है. अर्थव्यवस्था तब से आज तक अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है और मोदी सरकार जीडीपी के झूठे आंकड़े पेश कर देश व युवाओं को दिग्भ्रमित कर रही है.’

उन्होंने कहा, ‘सरकार रोजगार के अवसर उत्पन्न करने में पूरी तरह से नाकाम रही है और उसका खामियाजा देश के मानव संसाधन, अर्थव्यवस्था, विदेशी मुद्रा भंडार, आंतरिक शांति व्यवस्था, और देश की रक्षा की स्थिति पर सीधे तौर पर पड़ रहा है.’

About परमबीर सिंह 630 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*