राजद के स्थापना दिवस समारोह में नहीं पहुंचे तेजस्वी यादव, राबड़ी देवी करती रहीं इंतजार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पिछले काफी दिनों से मीडिया और राजनीति से दूर चल रहे बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पटना आ गए हैं. लेकिन वे राजद के स्थापना दिवस समारोह में शामिल नहीं हुए. शुक्रवार को राजद का 23वां स्थापना दिवस समारोह मनाया जा रहा है. कार्यक्रम शुरू होने के कुछ देर के बाद तेजप्रताप यादव पहुंचे. लेकिन तेजस्वी यादव नहीं पहुंचे.

तेजप्रताप यादव और तेजस्वी के लिए राबड़ी देवी के बगल में कुर्सी लगाया गया था. कार्यक्रम में तेजप्रताप यादव तो पहुँच गए. लेकिन तेजस्वी यादव का इंतजार होता रहा. अंत में खाली कुर्सी पर रामचंद्र पूर्वे को बैठाया गया.

तेजप्रताप को भेजा तेजस्वी ने

पार्टी के स्थापना दिवस कार्यक्रम में तेजस्वी के नहीं आने पर तेजप्रताप यादव ने कहा कि मुझे तेजस्वी यादव ने ही भेजा है. हम दोनों भाई एकजुट हैं. इसमें कोई संदेह नहीं है. सोशल मीडिया पर हम दोनों भाई के खिलाफ अफवाह फैलाई जा रही है जो गलत है. हमारी जोड़ी कृष्ण और अर्जुन की है. विधानसभा चुनाव एक साथ लड़ेंगे. तेजप्रताप यादव ने कहा कि मुझे लोग दूसरा लालू कहते हैं.

वहीं तेजप्रताप ने शिवानंद तिवारी पर लग रहे आरोपों पर कहा कि मेरे पिता के जेल जाने को लेकर जो लोग उनपर आरोप लगाते रहते हैं वो सही नहीं है. उन्होंने स्पष्ट किया कि शिवानंद जी के कारण मेरे पिता जेल गए हैं ये बात बिल्कुल गलत है. वो शिवानंद जी के कारण जेल नहीं गए हैं. कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद तेजप्रताप यादव विधानसभा के लिए निकल गए.

तेजस्वी के नहीं आने पर तेजप्रताप ने दी सफाई, कहा- मुझे मेरे भाई ने ही भेजा है

बता दें कि पिछली बार राजद के स्थापना दिवस पर लालू के दोनों पुत्र तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव ने साथ-साथ कार्यक्रम में शिरकत किया था. हालांकि उसके पहले से ही दोनों के बीच खटास को लेकर अटकलबाजी जारी थी. इसपर दोनों ने इस कयास पर ये कहकर विराम लगा दिया था कि दोनों के बीच मधुर संबंध हैं और दोनों मिलकर पार्टी को आगे ले जाएंगे.

About परमबीर सिंह 1508 Articles
राजनीति, क्राइम और खेलकूद....

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*