तेजप्रताप के बाद अब तेजस्वी ने घेरा, बोले- पहले पटना से दिल्ली तक मिले मकान खाली करें नीतीश जी

पटना एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव.

लाइव सिटीज (देवांशु प्रभात) : बिहार में सरकारी बंगले को लेकर पक्ष और विपक्ष आमने सामने हैं. कोर्ट के आदेश के बाद राज्य सरकार जहां नेता प्रतिपक्ष का बंगला खाली करने का आदेश डीएम को दिया है. वहीं राजद नेता और कार्यकर्ता इसका विरोध कर रहे हैं. वहीं दिल्ली से पटना पहुंचे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को जमकर कोसा. बता दें कि इसके पहले तेजप्रताप यादव ने इसी मामले में मुख्यमंत्री को घेरा था.

पटना एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बंगले का मामला अभी डबल बेंच में है, इसलिए यह इलीगल है. वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका नाम नीतीश कुमार है. उन्होंने कहा कि जब वे हमारे घर में सीसीटीवी लगा सकते हैं, तो समझ लीजिए कुछ भी कर सकते हैं.

तेजस्वी यादव यहीं पर नहीं रुके. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार बराबर पलटी मारते हैं और धोखा देते हैं. वे लगातार अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं. उन्होंने सीएम से सवाल पूछते हुए कहा कि किसी को कानून के तहत एक ही आवास आवंटन हो सकता है, लेकिन नीतीश कुमार को दो आवास आवंटित है. एक मुख्यमंत्री के नाम पर और दूसरा पूर्व मुख्यमंत्री के नाते आवास आवंटित हैं. उन्होंने कहा कि अब तो उनको दिल्ली में भी आवास मिल गया है. पटना से लेकर दिल्ली तक मिले मकान को तो नीतीश कुमार पहले खाली करें.

BREAKING : तेजस्वी यादव के बंगला खाली कराने के विरोध में धरने पर बैठे राजद विधायक व समर्थक

BIG BREAKING : तेजस्वी यादव का बंगला खाली कराने पहुंचा पटना जिला प्रशासन, सिक्योरिटी टाइट 

तेजस्वी के बंगले पर घरवालों ने साटा पोस्टर, खाली कराने गये जिला प्रशासन के अधिकारी असमंजस में 

तेजस्वी के समर्थन में आए तेजप्रताप यादव, बोले: बंगला-बंगला खेलने में लगे हैं नीतीश चाचा 

अब आज नहीं खाली होगा तेजस्वी यादव का बंगला, वकील ने उपलब्ध कराए ये कागजात

उन्होंने कहा कि बिहार क्या, हिंदुस्तान में यह पहला मामला है, जहां नेता प्रतिपक्ष जिसे मंत्री का दर्जा मिला है, उनका बंगला खाली कराने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि जब सरकार में हम भवन निर्माण मंत्री थे, उस समय सुशील मोदी के पास मंत्री का बंगला था. हम भी चाहते तो खाली करा सकते थे. लेकिन ऐसा घटिया काम हमने नहीं किया. सुशील मोदी जब नेता प्रतिपक्ष रहे हों या मंत्री या फिर उपमुख्यमंत्री रहते हुए उसी बंगले में हैं. लेकिन पता नहीं क्यों छोटे बच्चे से इतनी नफरत है.

इतना ही नहीं, बाद में उन्होंने अपने आवास पर भी नीतीश कुमार पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि बिहार में अपराध चरम पर है. नीतीश कुमार अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि लालू फैमिली को वे लोग परेशान करने की साजिश रच रहे हैं. गौरतलब है कि इसी मामले पर आज सुबह ही लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने भी जमकर निशाना साधा.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*