लालू प्रसाद से भेंट कर लौटे तेजस्वी यादव, आते ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर खूब बरसे

पटना एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव.

लाइव सिटीज (देवांशु प्रभात) : मुंबई में अपने बीमार पिता लालू प्रसाद से मुलाकात कर बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गुरुवार को पटना लौट आए हैं. पटना एयरपोर्ट पर उन्होंने मीडिया से बात की तथा बिहार में बढ़ते क्राइम को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जमकर घेरा. उन्होंने कहा कि बिहार में रेप की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं. बिहार में लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह फेल हो चुका है. पुलिस प्रशासन अथवा सरकार का अपराधियों को कोई डर और भय नहीं है. तेजप्रताप यादव की सुरक्षा में सेंध को लेकर भी तेजस्वी ने सरकार पर तंज कसा.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि पटना में पिछले दिनों अधिकारी के घर में घुसकर मार दिया गया. बदमाशों ने कार्यालय में घुसकर जंदाहा प्रखंड प्रमुख की हत्या कर दी. उन्होंने कहा कि बिहार के गृह मंत्री कौन हैं, जो बार-बार फेल्योर हो रहे हैं. उसके लिए जिम्मेदार कौन हैं.

उन्होंने कहा कि मेरे चाचा नीतीश कुमार कहते थे कि शराबबंदी के बाद अपराध कम हो जाएगा. लेकिन, अब तो ऐसी स्थिति हो गई है कि वे कई क्षेत्रों में फेल हो चुके हैं. मुजफ्फरपुर में इन लोगों ने महापाप करने का काम किया है. लेकिन जेडीयू द्वारा अभी भी दोषियों को बचाने का प्रयास चल रहा है. उन्होंने कहा कि मेरी मांग है कि मुजफ्फरपुर मामले में फेयर इनवेस्टिगेशन हो. लेकिन, मधुबनी शेल्टर होम के आॅनर से अब तक पूछताछ नहीं हुई है. उन्होंने सवाल दागा कि मधुबनी के उस शेल्टर होम का लाइसेंस अब तक रद्द क्यों नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि इस मामले में संदिग्ध अधिकारियों, मंत्रियों व नेताओं को बचाया जा रहा है.

तेजस्वी यादव यहीं पर नहीं रुके. उन्होंने नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मंत्री सुरेश शर्मा से अगर सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी इस्तीफा नहीं लेते हैं, तो हम लोगों को दिलाना पड़ेगा. सीएम नीतीश कुमार को चाहिए कि मुजफ्फरपुर घटना में जो भी लोग जुड़े हैं, उससे तुरंत इस्तीफा लें और सजा दिलाने का काम करें. सुरेश शर्मा कह रहे हैं कि वो मुझ पर 1 करोड़ की मानहानि का केस करेंगे. इससे पता चलता है कि उन्हें अभी भी पैसे से कितना लगाव है.

राहुल गांधी का फैसला : गुजरात हिलाने वाले अल्‍पेश ठाकुर अब बिहार में कांग्रेस को संभालें

बिहिया कांड पर तेजस्वी ने कहा कि इस कांड में आरजेडी के लोग शामिल नहीं थे. ब्रजेश ठाकुर से पूछिए वो कौन सी पार्टी में हैं. नीतीश बताएं कि वो ब्रजेश ठाकुर के बच्चे की बर्थडे पार्टी में गए थे कि नहीं? 2014 में उन्होंने एक साथ मंच का संचालन किया था कि नहीं? तेजस्वी ने तेजप्रताप की सुरक्षा में चूक पर कहा कि हिरासत में लिया गया युवक किस उद्देश्य से आया था, वो तो बाद में पता चलेगा. लेकिन इससे हम लोगों को डरने की जरूरत नहीं है. हम लोगों की सुरक्षा अब तक कैटेगराइज नहीं की गयी है. कुछ होगा, तो इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिम्मेदार होंगे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*